Weekend Lockdown in UP: कोरोना वायरस की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश में अब हर वीकेंड यानी शनिवार और रविवार (Saturday-Sunday Lockdown Uttar Pradesh) को लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान सभी तरह के बाज़ार पूरी तरह से बंद रहेंगे, लेकिन ज़रूरी सेवाओं को जारी रखा जाएगा. सरकारी निर्माण के जो कार्य चल रहे हैं, वह भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ जारी रहेंगे. इसे लेकर यूपी सरकार ने गाइडलाइन भी जारी कर दी है. हर हफ्ते दो दिन के लॉकडाउन के दौरान कई तरह के काम किए जाएंगे, जिससे कोरोना को रोका जा सके. Also Read - मिस इंडिया वर्ल्ड रहीं एक्ट्रेस नताशा सूरी कोरोना से पीड़ित, मुंबई से पुणे जाने के बाद चपेट में आईं

दो दिन के लॉकडाउन में होंगे ये काम
1. उत्तर प्रदेश सरकार इन दो दिनों में लॉकडाउन के बीच बाज़ारों में विशेष सेनिटाइजेशन कार्यक्रम चलाएगी. इसके साथ ही सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों में भी सेनिटाइजेशन के लिए कहा जाएगा. यहाँ भी साफ़ सफाई का पूरा ख्याल रखा जाएगा. Also Read - फिलहाल बंद रहेंगे स्कूल, अभिभावकों की ली जाएगी राय; शिक्षा मंत्री बोले- गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार निर्णय लेंगे

2.औद्योगिक इकाइयों को इन दो दिनों में अपने यहाँ सेनिटाइजेशन का कार्य कराने के निर्देश दिए गए हैं. Also Read - Covid Center Fire Incident: आग लगने से 10 कोरोना मरीजों की मौत, सरकार ने 50-50 लाख मुआवजे का किया ऐलान

3. सभी कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के भी आदेश दिए गए हैं. 48 घंटे ऑक्सीजन का बैकअप मौजूद रखा जाएगा.

4. बारिश के बीच कहीं भी जल भराव न हो, इसके भी आदेश दिए गए हैं. कोरोना की रोकथाम के लिए पूरे यूपी में घर-घर सर्वे किए जाने के भी आदेश दिए गए हैं.

5. इस आदेश के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार ने आदेश दिया है कि टेस्ट की संख्या बढ़ाई जाएगी. अब हर रोज 50 हज़ार टेस्ट किए जाएंगे. टेस्ट की संख्या बढ़ाना ही एकमात्र उपाय है, जिससे कोरोना काबू में लाया जा सकता है.

क्या करें, क्या न करें
1. इन दो दिनों के लॉकडाउन के दौरान आम जनता को घर से निकलने को मनाही होगी. अगर लॉकडाउन तोड़कर बिना वजह घर से निकलते हैं तो आपके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है.

2. मेडिकल स्टोर्स पर दवा लेने या हॉस्पिटल जा सकते हैं. सब्जी आदि की दुकानें भी इन दो दिनों में बंद रहेंगी. इसलिए सब्जी आदि भी दो दिन के लिए पहले ही लेकर रख लें.

3. सड़क पर बेवजह वाहन चलते दिखे तो चालान हो सकता है. पुलिस अनाउंस कर चेतावनी दे रही है.

4. हालांकि ज़रूरी सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए प्रतिबंध नहीं होगा.

5. डेरी उत्पाद घर घर पहुंचाए जा सकते हैं. कोरोना वॉरियर्स जैसे डॉक्टर्स-नर्सेस या इससे जुड़े प्रशासन के लोगों को नहीं रोका जाएगा. पहचान पत्र ही पास माना जाएगा.