लखनऊ: लखनऊ ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने जुमे की नमाज को लेकर गुरुवार को मशविरा (एडवायजरी) जारी की है. उन्होंने मुस्लिम भाइयों से कहा है कि शुक्रवार की नमाज मस्जिदों में करने से परहेज करें. अगर घर पर ही इबादत करें तो बेहतर रहेगा. ईदगाह के इमाम महली ने कोरोनावायरस को लेकर जारी एडवायजरी में कहा है कि मुस्लिम समुदाय से अपील की है कि मस्जिदों में नमाज अदा करने की बजाय घर पर ही प्रार्थना करें तो बेहतर है.Also Read - उत्तर प्रदेश के 14 शहरों में पुराने किराये पर दौड़ेंगी नई ई-बसें : नगर विकास मंत्री

उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए मुस्लिम भाइयों के लिए यह मशविरा जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि इस दौरान मस्जिदों में कोई भी जलसा न करवाना ही उचित रहेगा. Also Read - UP: आजम खान की हालत खराब, ऑक्‍सीजन लेविल गिरा, सीतापुर जेल से लखनऊ शिफ्ट किया जा रहा

Also Read - Lucknow: 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेजे गए अलकायदा समर्थित दो आतंकवादी, कई शहरों में बम विस्फोट की थी योजना

इमाम मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने कहा, “हमने एक एडवायजरी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि लोग मस्जिदों में नमाज अदा करने में परहेज करें. इसकी बजाय लोग घर पर ही नमाज अदा कर सकते हैं. खासतौर से शुक्रवार को होने वाली जुमे की नमाज को लेकर यह अपील की गई है.”

उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोनावायरस के 19 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें आगरा में 8, नोएडा में 4, लखनऊ में 5 व गाजियाबाद में 2 मरीजों की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है.

लखनऊ में गुरुवार को कोरोनावायरस से संक्रमित दो और मरीजों की पुष्टि हुई है. इससे पहले, केजीएमयू में कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों के इलाज में लगी टीम के एक रेजीडेंट डॉक्टर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ चुकी है. इसके साथ ही उनकी टीम के दो अन्य डॉक्टरों में भी कोरोनावायरस के लक्षण दिख रहे थे, जिनके सैंपल लिए गए.