नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में फिल्म उद्योग को बढ़ावा देने के लिए फिल्म सिटी के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. आज कई फिल्म निर्माताओं से सीएम योगी (Yogi Adityanath) ने बैठक कर बातचीत की है. इस दौरान फिल्म सिटी को ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के हस्तिनापुर के आस-पास फिल्म सिटी बनाये जाने का प्रस्ताव दिया गया है. फिल्म सिटी को हस्तिनापुर के आसपास क्यों बनाया जाना प्रस्तावित किया जा रहा है, इसकी वजह भी सीएम योगी ने बताई है.Also Read - Investment in UP: यूपी के पांच जिलों में 32 NRI ने 1045 करोड़ रुपये का निवेश करने की इच्छा जताई

सीएम योगी ने कहा कि भारत का नाम भारत शकुंतला पुत्र भरत के नाम पर पड़ा. उसी हस्तिनापुर के आस-पास के क्षेत्र में हम फिल्म सिटी प्रस्तावित कर रहे हैं. गंगा और यमुना के बीच का भूभाग है. यमुना एक्सप्रेस वे जो दिल्ली को आगरा से जोड़ने आ रहा है उसके बीच में ये सारा क्षेत्र पड़ता है. Also Read - प्रियंका गांधी ने सीएम योगी पर साधा निशाना, बोलीं- 'याद रखें कि जनता भी एक दिन ‘प्रॉपर्टी’ जब्त कर सकती है'

बता दें कि फिल्म सिटी निर्माण के एलान के बाद से राजनीतिक हलकों से लेकर फिल्म जगत में इसकी चर्चा है. फिल्म सिटी निर्माण के एलान के बाद गोरखपुर से सांसद रवि किशन ने योगी सरकार के इस फैसले का स्वागत किया था और फिर अभिनेत्री कंगना रणौत ने भी योगी सरकार के इस फैसले की तारीफ करते हुए कहा कि हॉलीवुड की फिल्म इंडस्ट्री की तरह हमारे यहां पर भी एक इंडस्ट्री और कई फिल्म सिटी होनी चाहिए. यह एक शानदार फैसला है. इसके बाद फिल्म निर्देशक मधुर भंडारकर भी लखनऊ आए और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की थी. Also Read - उत्तर प्रदेश के 14 शहरों में पुराने किराये पर दौड़ेंगी नई ई-बसें : नगर विकास मंत्री