मुजफ्फरनगर: फिल्म ‘दामिनी’ में सनी देओल का कोर्ट में न्याय मिलने में हो रही देरी और बार-बार ‘तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख’ डायलॉग एक बार फिर प्रासंगिक हो गया. मुजफ्फरनगर में बेटे से मिलने को तड़प रही मां को जब तारीख पर तारीख मिली तो उसने धैर्य खो दिया. महिला इतनी तंग आई कि वह जान देने के लिए वह उसी कोर्ट की छत पर चढ़ गई, जो जहां से उसे बार तारीख मिल रही थी. कोर्ट की तीसरी मंजिल पर चढ़ महिला चिल्लाने लगी. महिला को देख लोग एकत्रित हो गए. उसे पुलिस ने बेहद मुश्किल से महिला को नीचे उतारा. महिला अपने बेटे से मिलने के लिए परेशान थी. झगड़े का मामला कोर्ट में चल रहा था, इसके बाद बच्चे को पुलिस ने उसकी बजाय पति को सौंप दिया. इससे महिला परेशान थी. Also Read - सरकार द्वारा बनाए जा रहे धर्मांतरण कानून का पूरी तरह विरोध करेगी सपा: अखिलेश यादव

Also Read - सीएम योगी का बड़ा ऐलान, बोले- यूपी में शादी विवाह के लिए पुलिस या प्रशासनिक अनुमति की जरूरत नहीं

मामला मुजफ्फरनगर जिले का है. बताय जा रहा है कि जिले की रहने वाली साक्षी का एक साल पहले पति के साथ झगड़ा हो गया था. ये मामला फैमिली कोर्ट में चल रहा है. कुछ समय पहले महिला का बेटा उसके पति को सौंप दिया गया. महिला का कहना था कि उसे बच्चे से मिलने दिया जाए, लेकिन ये संभव नहीं हो पाया. कोर्ट में आज भी विवाद को लेकर कोर्ट ने फिर से तारीख दे दी. इससे परेशान होकर ने सुसाइड का फैसला कर लिया. वह कोर्ट की तीन मंजिला बिल्डिंग पर चढ़ गई. महिला ने चीखना चिल्लाना शुरू कर दिया. उसे लोग कूदने से रोक रहे थे. वह बार-बार चेतावनी दी रही थी. Also Read - शिया धर्मगुरू मौलाना कल्बे सादिक का निधन, बेटे ने दी जानकारी, सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया दुख

यूपी: मुजफ्फरनगर में कबाड़ की दुकान पर जबर्दस्त धमाका, अब तक चार की मौत, तीन गंभीर

यहां मौके पर पहुंची पुलिस ने बेहद मुश्किल से उसे नीचे उतारा. उसे नीचे लाया गया. महिला बार-बार बच्चे से मिलवाने की बात कह रही थी. पुलिस ने बताया कि महिला को पुलिस ने हिरासत में रखा है. उसका मामला कोर्ट में विचाराधीन है.