नई दिल्ली: घर की छत पर खेल रहे 6 साल के बच्चे की एक छोटी सी शैतानी महिला को इतनी बुरी लगी कि महिला ने बच्चे की हत्या कर दी. पत्थर से मुंह कुचलकर मारने के बाद महिला बच्चे के शव को पूरे दिन घर में रखे रही. फिर अपने पति की मदद से महिला ने बच्चे को एक आलू के खेत में दफना दिया. महिला द्वारा की गई वारदात का किसी को पता भी नहीं चलता, लेकिन महिला की साड़ी पर लगे खून के दाग ने राज खोल दिया. महिला द्वारा बच्चे को मारने की बात जिसे भी पता चली वह चौंक गया.Also Read - दोस्तों को बुलाकर अपनी ही पत्नी से कराता था गैंगरेप, पति चौंकाने वाले तरीके से करता था प्रताड़ित, अब...

घटना उत्तर प्रदेश के ललितपुर की है. ललितपुर जिले के जाखलौन थाना क्षेत्र के दावनी गांव से लापता छह साल के बच्चे की हत्या के आरोप में पुलिस ने एक दंपती को शनिवार को गिरफ्तार किया. ललितपुर के नगर पुलिस उपाधीक्षक (सीओ सिटी) केशव नाथ ने रविवार को बताया कि 28 जनवरी से लापता जगत सिंह राजपूत के छह साल के बेटे अंश का शव 29 जनवरी को एक खेत में मिला था. इस मामले में उसके पड़ोस में रहने वाली महिला गुड्डू देवी (50) और उसके पति तुलसी राजपूत (55) को गिरफ्तार किया है. Also Read - मध्य प्रदेश: 14 साल की लड़की से ट्रक में गैंगरेप, हत्या कर शव चंबल नदी में फेंका

सीओ सिटी ने गिरफ्तार दंपती के हवाले से बताया कि बालक 28 जनवरी को छत पर खेल रहा था, तभी खेल-खेल में उसने एक पत्थर महिला (गुड्डू) को मार दिया था. गुस्से में गुड्डू ने भी एक नुकीला पत्थर बच्चे को मार दिया, जिसके लगने से वह बेहोश हो गया था. Also Read - सेक्स रैकेट में पकड़ी गईं 3 लड़कियां निकली कोरोना पॉजिटिव, एक ग्राहक भी संक्रमित

उन्होंने बताया कि बच्चे के बेहोश होने से घबरा कर महिला ने पत्थर से मुंह कुचलकर बच्चे की हत्या कर दी और शव दिन भर अपने घर में रखे रही, फिर रात में अपने पति के सहयोग से उसे रामसेवक नाम के व्यक्ति के आलू के खेत में शव पत्तों में छिपाकर रख दिया था. नाथ ने बताया कि गिरफ्तार दंपती के घर और एक साड़ी में खून के छींटे पाए जाने पर पति-पत्नी से पूछताछ करने पर बच्चे की हत्या का राज खुला.