लखनऊ: अपने बयानों को लेकर विवादों में रहने वाले योगी सरकार में मंत्री ओमप्रकाश राजभर में एक बार फिर चौकाने वाला बयान दिया है. इस पर उनके निशाने पर बदायूं के बीजेपी विधायक आए हैं, जिन्‍होंने बीते दिनों मुख्‍यमंत्री को विकास कार्यों को लेकर पत्र लिखा था. राजभर ने कहा कि भाजपा विधायकों को ठेका और कमीशन नहीं मिल रहा है, जिसके कारण उन्‍होंने योगी सरकार को पत्र लिखा था.

सपा नेता के बिगड़े बोल, ‘लड़कियों के अंग प्रदर्शन से बढ़ीं रेप की घटनाएं’

उत्तर प्रदेश सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने आज बदायूं के भाजपा विधायकों को लेकर विवादित बयान दिया है. उनका कहना है कि भाजपा विधायकों ने विकास कार्यों के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी नहीं लिखी है. बल्कि इसके कुछ और कारण है. राजभर ने कहा कि कुछ ऐसे जीव होते हैं जिन्हें बस किसी न किसी हालत में तमाशा करना होता है, इन विधायकों को ठेका और कमीशन नहीं मिल रहा होगा इसलिए चिट्ठी लिख डाली. उधर, राज्य के कुछ विधायकों को धमकी मिलने और रंगदारी मांगे जाने के सवाल पर राजभर ने कहा कि विदेश में बैठे कुछ खुराफाती लोग ऐसा कर रहे हैं.

UP: कैबिनेट मंत्री के बेटे के विवादित बोल- कहा, लड़कियों को गलत तरीके से छूने वालों के काट दूंगा हाथ

अप्रैल में भाजपा सांसदों ने लिखा था सीएम को पत्र
बता दें कि बदायूं के चार विधायकों ने क्षेत्र के सांसद धर्मेंद्र यादव द्वारा सपा शासन के दौरान कराए गए तमाम विकास कार्यों का हवाला देते हुए और उनकी तारीफ करते हुए अप्रैल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर जनपद के लिए विकास की कुछ बड़ी परियोजनाओं की मांग की थी.