लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में योगी सरकार के मंत्री आए दिन अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. इसमें कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर, विधायक सुरेंद्र सिंह सहित कई नेता शामिल हैं जो अपने बयानों के चलते विपक्षियों को हमला करने का मौका देते रहते हैं. इस कड़ी में अब नया नाम कैबिनेट मंत्री स्‍वामी प्रसाद मौर्य का जुड़ गया है. स्वामी प्रसाद मौर्या ने टीपू सुल्तान को लेकर ऐसा बयान दिया है, जो कि भाजपा की सोच से बिल्कुल अलग है. बता दें कि बीजेपी कर्नाटक में टीपू जयंती का विरोध कर रही है.

 

बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने टीपू सुल्तान को पार्टी से अलग बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि टीपू सुल्तान ने ब्रिटिश सेनाओं के खिलाफ लड़ने में भी योगदान दिया था. इसलिए, मेरा मानना है कि जिन लोगों ने हमारे देश का निर्माण करने में योगदान दिया था और हमें अंग्रेजों से आजादी दिलाने में मदद की, ऐसे लोगों का सम्‍मान किया जाना चाहिए.

योगी के मंत्री का BJP पर हमला, ‘शहरों का नाम बदलने से पहले मुस्लिम नेताओं का नाम बदले’

कर्नाटक भाजपा ने टीपू को ‘धार्मिक रूप से कट्टर’ बताया
बता दें कि कर्नाटक सरकार ने शनिवार को 18वीं सदी में मैसूर साम्राज्य के शासक रहे टीपू सुल्तान की जयंती मनाई.इस दौरान भाजपा और कई हिंदू संगठनों की ओर से विरोध-प्रदर्शन भी किया गया. टीपू को ‘धार्मिक रूप से कट्टर’ करार देते हुए भाजपा की प्रदेश इकाई ने जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन सरकार से टीपू जयंती नहीं मनाने को कहा था.