बरेली: बिजली निजीकरण के विरोध में उतरे बिजलीकर्मियों ने योगी सरकार की बुद्धि-शुद्धि के लिए हवन से लेकर ध्यान आकर्षित करने के लिए बाइक रैली निकाल रहे हैं. बरेली में प्रदर्शन कर कलेक्ट्रेट के आसपास बाइक रैली निकाली गई. हाथों में तख्तियां लेकर कर्मचारियों ने कहा कि जो सरकार निकम्मी है, वह सरकार बदलनी है. बता दें कि बरेली में विद्युत कर्मचारी संगठन 5 दिनों से योगी सरकार के खिलाफ बगावत पर उतर आये हैं. Also Read - जिस सशक्त भारत की कल्पना नेताजी ने की थी आज देश उसी नक्शे कदम पर चल रहा है: पीएम मोदी

ये है मामला
प्रदेश सरकार द्वारा पांच महानगर लखनऊ,वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ, मुरादाबाद और 7 जिलों रायबरेली, मऊ, बलिया, उरई, इटावा, कन्नौज व सहारनपुर की बिजली निजीकरण किये जाने का संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा विरोध किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश राज्य विधुत परिषद् अभियंता संघ के क्षेत्रीय सचिव रणजीत चौधरी ने कहा कि बिजली व्यवस्था का निजीकरण से कर्मचारियो के साथ ही आम आदमी का भी अहित करेगा. Also Read - लालू प्रसाद यादव को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया, डॉक्टरों की टीम गठित

Also Read - Ayushman CAPF: अमित शाह ने 'आयुष्मान सीएपीएफ' का शुभारंभ किया, 28 लाख जवानों को मिलेगा लाभ