लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केरल में भारी बारिश और बाढ़ से हुई क्षति पर सहानुभूति व्यक्त करते हुए उत्तर प्रदेश से राहत सामग्री एवं दवाइयां केरल भेजने के निर्देश दिए हैं. साथ ही उन्होंने केरल को 15 करोड़ रुपये की मदद देने की भी घोषणा की है. साथ ही योगी सरकार ने केरल में बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए भोजन, बोतलबंद पेयजल, कपड़े व अन्य जरूरी सामग्री भेजने का फैसला किया है.

 

यूपी के राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए प्राप्त होने वाली राहत सामग्री व धनराशि पहुंचाने के लिए उचित व्यवस्था की जा रही है. कुमार ने बताया कि भोजन के एक पैकेट में बिस्कुट, ड्राई फ्रूट्स, रस्क, चॉकलेट, एनर्जी बार, दूध का टेट्रा पैक, फ्रूट जूस, ओआरएस व पानी की छोटी बोतल शामिल हैं. रेडी टू ईट फूड पैकेट में चावल बेस्ड सामग्री शामिल की जा रही है. उन्होंने बताया कि बच्चों के कपड़ों के अलावा टीशर्ट, लुंगी, गमछा, साड़ी व हल्के कंबल आदि शामिल किए जा रहे हैं. राहत आयुक्त ने बताया कि केरल आपदा में मदद से जुड़ी व्यवस्था के लिए समन्वय की जिम्मेदारी तय की गई है. इसके लिए राहत आयुक्त कार्यालय में परियोजना निदेशक टी.पी गुप्ता और यूपी राज्य आपदा प्रबंध प्राधिकरण लखनऊ में परियोजना निदेशक बलवीर सिंह से संपर्क किया जा सकता है.

Kerala flood: महिलाओं को नाव में चढ़ाने के लिए खुद बन गए ‘सीढ़ी’, जमकर हो रही है तारीफ

स्वयंसेवी संस्थाओं एवं समाजसेवियों से भी मदद करने की अपील
मुख्यमंत्री ने केरल राज्य में हुई क्षति से प्रभावित वहां की जनता को राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से 15 करोड़ रुपये की धनराशि केरल राज्य के मुख्यमंत्री सहायता कोष में भेजने के निर्देश दिए हैं. साथ ही उन्होंने स्वयंसेवी संस्थाओं एवं समाजसेवियों से भी केरल राज्य में भीषण वर्षा एवं बाढ़ से हुई क्षति में सहयोग प्रदान करने का आह्वान किया है. योगी ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार एवं उत्तर प्रदेश की जनता केरलवासियों के साथ है. केरल राज्य की आपदा प्रभावित लोगों को राहत एवं सहायता करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार कृत संकल्पित है.