लखनऊ/अयोध्या: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर का कहना है कि अयोध्या में धारा-144 लागू होने के बावजूद इतनी भीड़ का जुटना ये बताता है कि वहां प्रशासन पूरी तरह से फेल हो गया है.  कैबिनेट मंत्री ने इस मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि अयोध्या में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए सेना की तैनाती की जानी चाहिए.Also Read - ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति और मुफ्त टीकाकरण सुनिश्चित करे केंद्र, विपक्ष का मोदी सरकार को पत्र

Also Read - महाराष्ट्र में मंदिर विवाद, शिवसेना ने कहा-भाजपा को मुफ्त में नाचने के लिए लोग मिल जाते हैं

छावनी में तब्दील हुई अयोध्या, चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा, 2 लाख ‘रामभक्तों’ के जुटने का दावा Also Read - प्रस्‍तावित श्रीराम जन्‍मभूमि मंदिर की फोटो आई सामने, ऐसा भव्‍य दिखेगा

मंत्री ने रविवार को होने वाली ‘धर्म सभा’ के लिए मंदिर नगरी में शिव सैनिकों, विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं (विहिप) और राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के कार्यकताओं के जमा होने और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के आगमन पर चिंता जताई. उन्होंने कहा कि अयोध्या में धारा 144 लगाई गई है, लेकिन फिर भी इतनी बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो रहे हैं. इसका मतलब है कि प्रशासन फेल हो गया है. राजभर ने कहा कि मैं सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से सहमत हूं कि अयोध्या में प्रशासन फेल हो चुका है इसलिए जरूरी है कि वहां सेना बुलाई जाए. शिवसेना के कार्यक्रम व धर्मसभा के आयोजन को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट है. उन्होंने कहा जब गरीब, कमजोर, पिछड़ा, दलित, अल्पसंख्यक किसी कार्यक्रम के लिए परमिशन लेना चाहेगा तो 144 का हवाला देकर परमिशन नही दी जाती है.

चार साल से सो रहे कुंभकर्ण को जगाने आया हूं, मंदिर कब बनेगा मुझे तारीख चाहिए: उद्धव ठाकरे

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष राजभर ने कहा कि वह समाजवादी पार्टी ( सपा) प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की इस मांग से सहमत हैं कि सर्वोच्च न्यायालय को अयोध्या में सेना की तैनाती का आदेश जारी करना चाहिए. राजभर ने कहा, मैं अखिलेश यादव के बयान का स्वागत करता हूं और यहां सेना की तैनाती की उनकी मांग का समर्थन करता हूं. उन्होंने यह सवाल उठाया कि अयोध्या में धारा- 144 लगने के बावजूद भी कैसे हजारों लोग यहां पहुंच गए. मंत्री ने कहा, ऐसा लगता है कि पुलिस और जिला प्रशासन कानून-व्यवस्था बनाए रखने में विफल हो गया है और मुझे लगता है कि सेना की तैनाती का समय आ गया है.

आशीर्वाद सभा में हिस्सा लेने अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे