Youth Killed in Tractor Rally: गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली में मारे गए युवक की पहचान हो गई है. वह युवक कुछ दिन पहले ही ऑस्ट्रेलिया से भारत आया था. वह ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई करता था. उसकी उम्र 27 साल थी. वह तीन दिन पहले ही किसान आंदोलन से जुड़ा था. किसान आंदोलन से जुड़ने के बाद उसके दिल्ली जाने के बारे में उसके परिवार को कोई जानकारी नहीं थी.Also Read - शादी के कार्ड पर किसान आंदोलन की झलक, दूल्हे ने लिखवाया- जंग अभी जारी है, MSP की बारी है

दरअसल, यूपी के रामपुर जिले के बिलासपुर इलाके से कई किसान आंदोलन में भाग लेने गए हैं. मंगलवार को दिल्ली के आईटीओ के पास ट्रैक्टर हादसे में मारे गए युवक की पहचान नवरीट (Navreet) के रूप में हुई है. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक वह जिले के दिबदिबा गांव का करने वाला था. Also Read - BJP सांसद की किरकिरी, किसानों से ताली बजाने को कहा, सुनने को मिला इनकार

रिपोर्ट के मुताबिक वह जिस ट्रैक्टर पर सवार था वह टैक्टर पलट गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी. दिल्ली पुलिस के मुताबिक ट्रैक्टर रैली के दौरान कई किसान पुलिसकर्मियों को टक्कर मारने के लिए बेहद खतरनाक तरीके से ट्रैक्टर चला रहे थे. Also Read - Rakesh Tikait ने क्यों कहा- खत्म नहीं हुआ है किसानों का आंदोलन? जानें 26 जनवरी का क्या है 'प्लान'

पुलिसकर्मी घायल नवरीट को बचाने उसके पास गए लेकिन प्रदर्शनकारी कोई सहायता नहीं करने दिए. पुलिस का कहना है कि हमने देखा कि प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर से बैरिकेड्स को टक्कर मार रहे थे.

पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारी युवक के शव के साथ बैठे थे. वे पुलिस को पास नहीं पहुंचने दिए. पुलिस युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाना चाहती थी.