लखनऊ: यूपी के एक युवक ने अमेरिका के मियामी एयरपोर्ट पर हमले की धमकी दी. इस पर यूपी एटीएस ने एनआईए की इनपुट के आधार पर जालौन के युवक को हिरासत में लिया है. पुलिस की पूछताछ में युवक ने धमकी देने की बात कबूल की है. साथ ही उसने पांच बार फोन करके धमकी देने की बात भी कबूली है.

 

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने शनिवार को प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि पुलिस ने इस मामले में एनआईए और यूपी एटीएस की टीमों को जांच के लिए लगाया है. वहीं अमेरिका की सुरक्षा एजेंसी एफबीआई से भी इस बारे में मदद मांगी है. उन्‍होंने कहा कि इस घटना को गंभीरता से लेते हुए यूपी एटीएस ने जालौन से आरोपी युवक को गिरफ्तार किया है. उन्‍होंने बताया कि धमकी देने वाला युवक बिटक्वाइन में हुए नुकसान पर एफबीआई के द्वारा कार्रवाई नहीं करने से नाराज था. इसके चलते ही उसने दो अक्टूबर से पांच अक्‍टूबर के बीच में पांच बार फोन करके और ई-मेल के माध्‍यम से अमेरिका के ‘मियामी एयरपोर्ट’ पर हमला करने की धमकी दी.

यूपी एटीएस ने कानपुर से पकड़ा हिजबुल का आतंकी, गणेश चतुर्थी पर किसी बड़ी घटना की फिराक में था

यह था कारण
जानकारी के मुताबिक, युवक ने उसके 3000 डालर के बिटकॉइन हड़पे जाने के मामले में एफबीआई से मदद मांगी थी. इसके लिए उसने करीब 50 बार एफबीआई को कॉल की थी, मदद नहीं मिलने पर उसने धमकी दी. धमकी के बाद एनआइए व एफबीआइ ने यूपी एटीएस से मदद मांगी थी. इसके बाद एटीएस की टीम ने सर्विलांस और साइबर सेल का मदद से आरोपी की पहचान की और पुलिस ने उसे उरई में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया.

जासूसी के आरोप में गिरफ्तार ब्रह्मोस के इंजीनियर को आज कोर्ट में पेश कर सकती है UP ATS

पुलिस ने लैपटॉप व पेन ड्राइव कब्‍जे में लिया
डीजीपी ने बताया कि पुलिस ने आरोपी युवक के कब्‍जे से उसका लैपटॉप और पेन ड्राइव जांच के लिए ले लिया है. आरोपी युवक ने एफबीआई के अधिकारियों को कई मर्तबा कॉल किया. एफबीआई ने इसकी सूचना एनआईए से साझा की. इसके बाद यूपी पुलिस ने आरोपी को यूपी के जालौन से गिरफ्तार कर लिया.