लखनऊ: कुत्तों के आतंक पर समाजवादी पार्टी ने सूबे की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है. सपा ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के कई जनपदों में पिछले कई दिनों से आवारा आदमखोर कुत्तों का आतंक है. अब तक सैकड़ों लोग इनके शिकार हो चुके हैं और एक दर्जन से ज्यादा मासूम बच्चों की मौत हो चुकी है. इतना होने पर भी सत्तारूढ़ बीजेपी सरकार संवेदनशून्य लग रही है. पार्टी ने कहा है कि ऐसा प्रतीत होता है कि मुख्यमंत्री को मासूमों की मौत की चिंता नहीं है.

पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा कि सीतापुर के खैराबाद क्षेत्र के महेशपुर चिलवारा गांव में आज भी एक 10 वर्षीय बच्ची को आवारा कुत्तों ने नोंच डाला. इससे पूर्व दर्जन भर बच्चों की मौत कुत्तों के हमलों से हुई हैं. फरुखाबाद के थाना जहानगंज में और मेरठ में भी कुत्तों का आतंक है. जिन घरों में मौत का तांडव हो चुका है वहां मर्मभेदी चीखें ही सन्नाटा तोड़ती हैं.

बता दें कि आदमखोर कुत्तों के हमले में अब तक 13 बच्चे जान गवां चुके हैं. गौरतलब है कि सीतापुर जिले में पिछले लगभग 6 माह से आदमखोर कुत्तों का आतंक छाया हुआ है. 13 नौनिहालों को गंवाने के बाद भी इन खूंखार कुत्तों पर काबू पाने में सीतापुर प्रशासन लगातार बेबस और नाकाम है.

सीतापुर में आदमखोर कुत्तों ने एक और मासूम को बनाया निवाला, आक्रोशित ग्रामीणों ने शव रखकर हाइवे किया जाम

चौधरी ने कहा कि बीजेपी की राज्य सरकार आदमखोर कुत्तों को पकड़ने या पहचान करने में पूरी तरह विफल साबित हुई है. सरकार की निष्क्रियता और अकर्मण्यता का इससे बड़ा और निंदनीय प्रमाण और क्या हो सकता है? उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सीतापुर जाकर भी लौट आए, लेकिन आवारा कुत्तों की पकड़ तक नहीं हो पाई है.

(इनपुट-एजेंसी)