Baba Kaal Bhairav: पहली बार खाकी वर्दी में नजर आए 'काशी के कोतवाल', बाबा काल भैरव के दर्शन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

Baba Kaal Bhairav: काशी के कोतवाल (Kashi ke Kotwal) कहे जाने वाले बाबा काल भैरव (Baba Kaal Bhairav) रविवार को पहली बार खाकी वर्दी में नजर आए.

Published: January 10, 2022 11:24 AM IST

By Nitesh Srivastava

Baba Kaal Bhairav, Baba Kaal Bhairav Varanasi Temple, Varanasi,
Baba Kaal Bhairav: पुलिस की वर्दी में दिखाई दिए 'बाबा काल भैरव'

Baba Kaal Bhairav: काशी के कोतवाल (Kashi ke Kotwal) कहे जाने वाले बाबा काल भैरव (Baba Kaal Bhairav) रविवार को पहली बार खाकी वर्दी में नजर आए. पुलिस की वर्दी के साथ उनका भव्य श्रृंगार किया गया, जिसके चलते बाबा की एक झलक पाने के लिए दर्शकों की भीड़ उमड़ पड़ी. पुलिस की वर्दी के साथ बाबा काल भैरव (Baba Kaal Bhairav) के हाथ में उनका चांदी का डंडा और एक रजिस्टर भी नजर आया. दर्शन करन पहुंचे श्रद्धालुओं का कहना है कि महामारी में वाराणसी (Varanasi) की रक्षा बाबा करेंगे.

Also Read:

वाराणसी (Varanasi) में ऐसी धार्मिक मान्यता है कि जिले से बाहर जाने से पहले और वापस आने के बाद दरबार में हाजिरी लगाने से सभी मनोकामना पूरी होती है, इसीलिए उन्हें काशी का कोतवाल (Kashi ke Kotwal) भी कहा जाता है. आम तौर पर हर रविवार को वाराणसी स्थित काल भैरव मंदिर (Baba Kaal Bhairav Temple Varanasi) में श्रद्धालुओं की लंबी लंबी कतारें देखने को मिलती है, लेकिन इस रविवार को उनके नए अवतार की जानकारी बाहर आई तो दर्शनार्थियों की संख्या और बढ़ गई.

काल भैरव के दर्शन करने एक श्रद्धालु का कहना है कि इस महामारी (Pandemic) के आगे जब विज्ञान और तकनीक बौनी हो गई है तो बाबा भैरव (Baba Kaal Bhairav) ही देशवासियों और वाराणसी के लोगों की रक्षा करेंगे, उन्होंने कहा कि हमारा विश्वास है कि यदि लोग जागरूकता दिखाते हुए कोरोना नियमों का पालन करें तो कोरोना जैसी महामारी का प्रकोप वाराणसी से दूर रहेगा.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 10, 2022 11:24 AM IST