भारतीय सेना यानी Indian Army में शामिल होकर देश सेवा करने का जूनून हर भारतवासी को होता है. देश के हर युवाओं के दिलों में भारतीय सेना में नौकरी करने की तमन्ना होती है. हमारे देश में सेना की नौकरी को बहुत ही प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक माना जाता है.Also Read - बीजेपी नेता वीडियो में जिस शख्‍स को थप्पड़ मारते दिखा, बाद में उसका शव रोड पर मिला

सेना में ऑफिसर बनने का सपना आज देश के हर युवाओं का होता है. इस सपने को हकीकत में तब्दील करने के लिए हम आपको बताते हैं कि भारतीय सेना में ऑफिसर के रूप में शामिल होने के लिए क्या करना होता है, क्या होती है इसकी क्वालीफिकेशन और क्या है सेलेक्शन प्रोसेस. Also Read - मुंबई में दो स्टेल्थ युद्धपोतों INS Surat और INS Udaygiri का जलावतरण हुआ, Indian Navy की बढ़ी ताकत

NDA और CDS की परीक्षा UPSC आयोजित करती है जबकि Territorial Army की परीक्षा भारतीय सेना आयोजित करती है. NDA और CDS का फॉर्म साल में दो बार UPSC द्वारा निकाली जाती है. वहीं Territorial Army के लिए भारतीय सेना साल में दो बार फॉर्म निकालती है. Also Read - सेना ने कहा- अरुणाचल प्रदेश सीमा के पास चीन बना रहा सड़क, रेल और हवाई संपर्क मार्ग, लगातार कर रहा निर्माण