Sukanya Samriddhi Yojana: बेटियों की भविष्य संवारने के लिए भारत सरकार (Govt Scheme 2021) ने सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Scheme) की शुरुआत की थी. इस योजना के तहत 10 साल तक की बेटी का अकाउंट खुलवाया जा सकता है. बेटी के 21 साल होने के बाद या स्कीम मेच्चोर होती है. यह स्कीम भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry Of Women and child development) के अंतर्गत “बेटी बचाओ, बेटी पढाओ” (beti bachao beti padhao)का हिस्सा है. इसे 10 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों के माता-पिता द्वारा चुना जा सकता है.Also Read - Government Schemes For Girls In India: बेटियों के लिए देश में चलाई जा रही हैं 5 सरकारी योजनाएं, जानें- कैसे मिलता है लाभ?

सुकन्या समृद्धि योजना (sukanya samriddhi yojana benefits) में निवेश के लाभ Also Read - SSY Vs LIC Kanyadan Policy: इनमें से किस पॉलिसी में कम प्रीमियम पर मिलेगा ज्यादा रिटर्न, समझें विस्तार से

बेटी बचाओ, बेटी पढाओ योजना के हिस्से के रूप में शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना निवेशकों को कई प्रकार के लाभ प्रदान करती है। Also Read - Sukanya Samriddhi Yojana: 250 रुपये में खोलें यह खाता, मिलेंगे 15 लाख, जानिए - क्या है तरीका?

भारत सरकार द्वारा समर्थित गारंटी रिटर्न साधन (सम्‍प्रभु गारन्‍टी)

आयकर धारा 80C के तहत सालाना Rs. 5 लाख तक टैक्स (sukanya samriddhi yojana tax benefits) में छूट का लाभ

एक वर्ष में न्यूनतम Rs. 250 अधिकतम 5 लाख Rs. प्रतिवर्ष कर सकते हैं

सुकन्या समृद्धि खाता देश के एक भाग से दूसरे भाग में आसानी से ट्रान्सफर कर सकते हैं

April 2021 ब्याज दर 7.60 % (sukanya samriddhi yojana interest rate)