Also Read - मध्य प्रदेश उपचुनाव: कमल नाथ का शिवराज पर तंज- अपने क्षेत्र का विकास न कर पाने वाला प्रदेश की तस्वीर क्या बदलेगा, मेरे क्षेत्र को देखो

दोस्ती न जाति देखती है न धर्म न संप्रदाय। दोस्ती तो बस हो जाती है। दोस्त वह होता है जिस पर आप विश्वास कर सकें, जिसके साथ आप सहज और सुरक्षित महसूस कर सकें। सुदामा और कृष्ण का भी तो कोई मेल नहीं था लेकिन हमेशा उनकी सच्ची दोस्ती का उदाहरण दिया जाता है। ऐसा ही कुछ उदाहरण इस वीडियो में ये जानवर दे रहे हैं। असल जीवन में अक्सर इन्हें एक दूसरे की जान का दुश्मन समझा जाता है। लोग समझते हैं कि इनका कोई मेल हो ही नहीं सकता। लेकिन इनके बीच का ये प्यार देख ऐसा लगता है जैसे ये एक दूजे के लिए ही बने हैंं। Also Read - IPL 2020 CSK vs KKR Highlights: कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ चेन्नई सुपरकिंग्स की जीत की ये रही 5 बड़ी वजह

Also Read - बिहार में चुनाव प्रचार रथ निकालेगी भाजपा, कहा- आरजेडी का जंगलराज याद दिलाएंगे