‘ना उम्र की सीमा हो ना प्यार को हो बंधन’ इसी कॉन्सेप्ट पर बना है सीरियल मेरे डैड की दुल्हन. इस सीरियल में श्वेता तिवारी और वरुण बडोला मुख्य किरदार में हैं. वरुण के लिए उनकी बेटी नेहा ही उनकी जिंदगी है. नेहा के बिना वे एक कदम भी चलने का सोच नहीं सकते. अपने हर काम के लिए उन्हें बेटी की जरूरत होती है. कभी-कभी ये गुस्से की वजह भी बनती है लेकिन वरुण यानि नेहा के डैडी के पास इसके आलावा कोई ओर चारा भी नहीं होता. वे पूरी तरह से अपनी बेटी नेहा के ऊपर निर्भर हैं. ऐसे में उनकी बेटी नेहा चाहती है कि कोई ऐसा आए जो डैड को प्यार से संभाल ले.Also Read - काजल राघवानी, अक्षरा सिंह समेत इन भोजपुरी अभिनेत्रियों के अफेयर्स ने बंटोरी सुर्खियां, यहां देखें किसका-किससे जुड़ा नाम

मुंबई में शो की लॉन्चिंग में पहुंची श्वेता तिवारी ने कहा, ‘भारतीय समाज में लंबे समय से औरतों को दबाया जाता है. ये शो आज के जमाने की महिलाओं की कहानी है. साथ ही इस सीरियल में दिखाया गया है कि प्यार किसी भी उम्र में हो सकता है. बशर्ते आपका देखने का नजरिया क्या है. इस शो के जरिए कलाकारों की काफी प्रशंसा हो रही है. चूंकि इसकी कहानी थोड़ी अलग है और आम आदमी की जिंदगी से जुड़ी हुई है ऐसे में ये शो दर्शकों को जरूर पसंद आने वाला है. Also Read - बोल्डनेस में मां Shweta Tiwari से चार कदम आगे हैं बेटी Palak Tiwari, ब्लैक आउटफिट में इंटरनेट का बढ़ाया पारा

Also Read - पापा Raja Choudhary संग कैसी है पलक तिवारी की बॉन्डिंग्स, बताया 'मां श्वेता की असफल शादियां...'