दुनिया भर के वैज्ञानिक इस खोज में सालों से लगे हैं कि एलियन्स का अस्तित्व है या नहीं. क्या धरती की तरह ऐसा कोई ग्रह है, जिस पर जीवन है. क्या एलियन्स वास्तव में हैं? अगर हैं तो क्या वो हमसे ज्यादा विकसित हैं या कम? क्या कभी धरती पर हमला हो सकता है? Also Read - Aliens के बारे में सनसनीखेज खुलासा: इस तरह छुपकर कर रहे हैं रिसर्च, यहां बना रखा है ठिकाना

ऐसे सवाल तो बहुत हैं, पर अब तक इनका साफ-साफ जवाब किसी के पास नहीं था. पर, अब जो शोध के नतीजे सामने आए हैं वो आपके इन सवालों का जवाब बन सकते हैं. Also Read - धरती जैसे और ग्रह भी हो सकते हैं मौजूद, बढ़ी एलियंस होने की संभावना

दरअसल, अमेरिकी वैज्ञानिकों को अंतरिक्ष में किसी बुद्धिमान एलियन सभ्यता के होने के पुख्ता प्रमाण मिल गया है. जिसके बाद से पूरे विश्व में एक बार फिर एलियन सभ्यता को लेकर चर्चा का दौर शुरू हो गया है. Also Read - सौरमंडल के बाहर इस जगह हो सकता है एलियनों का अस्तित्व, वैज्ञानिकों ने बताई ये बड़ी वजह

कहां दिखे एलियन्स
अमेरिकी वैज्ञानिकों को एलियन्स दिखे नही हैं. पर अंतरिक्ष में मौजूद उनके सिग्नल्स पकड़ने में कामयाबी हासिल हुई है. जी हां, ये सिग्नल्स ऐसे हैं, जो प्रमाण देते हैं कि ये किसी एलियन सभ्यता ने भेजे हैं.

वैज्ञानिकों का कहना है कि ये सिग्नल्स काफी पेचीदा हैं और इन्हें भेजने वाले कहीं अधिक विकसित सभ्यता के हो सकते हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि ऐसे एक-दो नहीं, बल्कि सैकड़ों सिग्नल्स मिले हैं.

अब कोशिश ये है कि वैज्ञानिक आधुनिक तकनीक की मदद से इन सिग्नलों को डिकोड कर सकें. इसके बाद ही पतचा चलेगा कि ये हमसे कितने अधिक उन्नत हैं. अमेरिकी वैज्ञानिकों को एलियन्स के सिग्नल्स को टेक्नोसिग्नेचर का नाम दिया है.