Amazing: बच्ची का ट्यूमर ऑपरेशन चल रहा हो और वो पियानो बजा रही हो, ऐसी एक अनोखी तस्वीर मध्य प्रदेश से सामने आई है. इस तस्वीर को लोग काफी पसंद कर रहे हैं. इस तरह के जटिल ऑपरेशन में बच्चे को रिलेक्स रखने की ये पहल वाकई काबिल-ए-तारीफ है. Also Read - Elephant In Shirt-Pant: हाथी ने पहनी शर्ट-पैंट, लोगों ने कालीन भैया स्टाइल में कहा- गजब...

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में उस समय चिकित्सा जगत में नई इबारत लिखी गई जब यहां की एक नौ वर्षीय बच्ची सिर से ट्यूमर निकालने के लिए ऑपरेशन के दौरान बेहोश नहीं किया गया बल्कि वह ऑपरेशन की अवधि में यह बच्ची पियानो बजाती रही और उसे किसी तरह की तकलीफ भी नहीं हुई. Also Read - खुदाई में मिला इतना बड़ा खजाना...मालामाल हो गए 6 भाई, ऐसे लग गई खुशियों को बुरी नजर, जानिए

बताया गया है कि ग्वालियर के नजदीक बानमौर में रहने वाली नौ साल की सौम्या के सिर में ट्यूमर था. इसके चलते उसे बीते दो सालों से कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था. अखिरकार बीते दिनों सौम्या को ऑपरेशन के लिए के लिए स्थानीय एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. Also Read - Amazing: डॉगी ने दिया 5 बच्चों को जन्म, जमकर हुआ नाच-गाना, 12 गांव के 2000 लोगों ने खाई दावत

इस अस्पताल में कार्यरत न्यूरो सर्जन डॉ. अभिषेक चौहान को अवेक क्रेनियोटॉमी पद्धति (कपाल छेदन) के जरिए ट्यूमर को बाहर निकालना था. यह बड़ा कठिन ऑपरेशन था, मगर सफलता मिली.

डॉ. चौहान के मुताबिक अवेक क्रेनियोटोमी पद्धति से ऑपरेशन करने पर मरीज को बेहोश करने की बजाय सिर्फ सर्जरी वाले भाग को सुन्न कर दिया जाता है. ऑपरेशन के दौरान मरीज को कोई दिक्कत तो नहीं है, यह जानने के लिए सौम्या से ऑपरेशन के दौरान पियानो बजाने के लिए कहा गया और ऑपरेशन के दौरान स्टाफ भी लगातार उससे बात करता रहा.

वह पूरे ऑपरेशन के दौरान पियानो बजाती रही और इस तरह ब्रेन के उपयोगी हिस्से को क्षति पहुंचाए बिना ट्यूमर निकाल दिया गया. अब बच्ची पूरी तरह स्वस्थ है.

चिकित्सकों का मानना है कि यह आसान शल्यक्रिया नहीं थी, इसमें जरा सी चूक बड़ा नुकसान कर सकती थी. मरीज को लकवा तक लगने की आशंका रहती है. ग्वालियर में अपनी तरह का यह पहला ऑपरेशन था.
(एजेंसी से इनपुट)