भारत जैसे देश में अनेक मंदिर है। सभी मंदिरों की कुछ ना कुछ विशेस्ताए है। वही आपने कई मंदिरों में चमत्कार होते हुए देखा होगा। आज भी कई मंदिरों को उनके किस्सों को लेकर जाना जाता है। आपको एक ऐसा ही चमत्कार वाली घटना बताएंगे जिसे सुनकर आप आस्चर्य में पड़ जाएंगे। चलिए आपको राजस्थान के पाली जिले में इस्थित एक मंदिर की चमत्कारी बातें बतातें हैं। यह भी पढ़ें: इस मंदिर में चोरी करने से पूरी होती है हर मनोकामनाAlso Read - Rajasthan: स्‍कूल के हेडमास्‍टर ने 8वीं की छात्रा से क्‍लास में किया रेप, परेशान लड़की ने हेल्पलाइन पर बताई आपबीती

Also Read - आदिवासी लड़की से एक साल तक बार-बार रेप करता रहा पड़ोसी, प्रेग्नेंट होने पर जबरन खिला दीं गोलियां, पेट में ही मर गया...

आज आपको हम चमत्कारों से भरा हुआ एक राजस्थान मंदिर के बारे में बताएंगे। राजस्थान के पाली जिले में हर साल, सैकड़ों साल पुराना इतिहास और चमत्कार दोहराया जाता है। शीतला माता का मंदिर इतना सुन्दर है की उसे जो देखतां है बस उसके सुंदरता को देखता ही रहता है। वहीँ शीतला माता के मंदिर में बना आधा फीट गहरा और उतना ही चौड़ा घड़ा भक्तों के दर्शन के लिए खोल दिया जाता है। आपको बता दें की यह मंदिर काफी पुराना है। वैसे ही यह घड़ा भगतो के सामने लगभग 800 साल में कुछ बार ही सामने लाया गया है। वही इस घड़े की चमत्कारी शक्ति सुनकर आप भी दंग रह जायेंगे। दरअसल इस घड़े की मानयता है की इसे आप कितना भी भरे मगर यह नहीं भरेगा। आपको बता दें की इस घड़े में अब तक कई लाख लीटर पानी डाला गया है मगर यह भर्ता नहीं। Also Read - Rajasthan: लव अफेयर को लेकर युवक की पीट-पीटकर हत्या के केस में 4 लोग अरेस्‍ट

शीतला माता के मंदिर में बना आधा फीट गहरा और इतना ही चौड़ा घड़ा भक्तों के दर्शन के लिए साल में बस दो बार खोला जाता है। इसे साल में एक बार शीतला सप्तमी पर और दूसरा ज्येष्ठ माह की पूनम पर घड़े का पत्थर हटाया जाता है। बंद करने की भी इसकी विधि है जिसके अनुसार इस में दूध का भोग लगाकर पूजा की जाती है और फिर उसे बंद कर दिया जाता है। आपको बता दें की इन मौको पर मंदिर में मेला भी लगता है जिस दौरान हज़ारों लोग दर्शन के लिए आया करते हैं।