बलिया (यूपी): बलिया जिले एक गाँव में रहने वाली 16 साल की एक लड़की सरोज के अकाउंट में अचानक 10 करोड़ रुपये आ गए. वह अपने काम से बैंक गई, तब उसे बताया गया कि उसके खाते में करीब 10 करोड़ रुपये हैं. इसके बाद गाँव से लेकर बैंक तक में हड़कंप मच गया. पुलिस मामले की जाँच कर रही है.Also Read - Bank Holiday List July 2021: जुलाई महीने में जाना है बैंक, तो जान लें कब-कब है छुट्टी, यहां देखें पूरी लिस्ट

सरोज ने बताया कि उसका साल 2018 से बांसडीह शहर में इलाहाबाद बैंक की एक शाखा में अकाउंट था और उसने कभी इतने पैसे नहीं देखे हैं. सरोज सीधे पुलिस स्टेशन गई और शिकायत दर्ज कराई. उसने पुलिस को बताया कि कानपुर देहात के नीलेश कुमार नाम के एक व्यक्ति ने करीब दो साल पहले उसे फोन किया था और उससे अपने आधार कार्ड का विवरण और उसकी तस्वीर भेजने को कहा था, ताकि उसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत धनराशि मिल सके. Also Read - ATM Withdrawal Limit Charges: अब एटीएम से पैसे निकालने पर देना होगा ज्यादा शुल्क, जानिए क्या है नया नियम और कब से होगा लागू

सरोज ने कहा कि उसने कुमार को विवरण भेजा था, लेकिन उसके बाद उससे कभी बात नहीं हुई. उसने पुलिस को बताया कि जिस नंबर से नीलेश कुमार उसे फोन करता था, वह अब बंद हो चुका है. उसने यह भी कहा कि उसे नहीं पता कि उसके खाते में पैसा कहां से आया. बैंक मैनेजर ने पुलिस को बताया कि सरोज ने 10,000 रुपये से लेकर 20,000 रुपये तक की राशि कई बार जमा की थी और निकाला था. Also Read - Bank Holidays In June 2021: जून महीने में 9 दिन बैंक रहेंगे बंद, यहां देखें छुट्टियों की लिस्ट

बांसडीह थाना प्रभारी राजेश कुमार सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि साइबर विशेषज्ञ मनी ट्रेल की भी जांच कर रहे हैं.