आज कल के आधुनिक युग में किसी के पास मोबाइल फ़ोन ना हो यह बात हो नहीं सकती बल्कि आपको बता दे कि आज कल छोटे बच्चे तक स्मार्टफोन रखते है और उसका इस्तेमाल गेम खेलने से लेकर सोशल मीडिया के उपयोग करने तक करते हैं। मगर क्या आप जानते है यह फ़ोन आपको अंदर से कितना नुकसान पंहुचा रहा है। आपको बता दे कि आज के ज़माने में शायद ही कोई व्यक्ति होगा जिसे फ़ोन का उपयोग से अंजना होगा मगर आप इस से हो रहे नुकसान से जरूर ही अनजान हैं। चलिए आपको बताते है क्या है मोबाइल फ़ोन का नुकसान। यह भी पढ़ें: मानसिक स्वास्थ्य का राज खोलता है सेक्स

आपको पता होगा कि आज के तारीख में हज़ार नहीं करोड़ नहीं बल्कि लगभग दुनिया के हर एक कोने में लोग मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करते हैं। आपको शायद यह बात मालूम नहीं होगी कि कई देशों में मोबाइल फ़ोन उपयोग करने के बाद फेंक दिए जाते है। मगर आपको बता दे कि इस से उसके ज़हरीले रसायन ख़तम नहीं हो जाते बल्कि वह हवा पानी और मिटी में मिल इसे जहरीला बना रही है। आपको यह बात तो पता होगी कि डर्टी पे कुछ ऐसे धातु है जो नष्ट नहीं होते और उनका रेडिएशन इंसान के शरीर पर बुरा असर डालती है। वही मोबाइल में लीड, ब्रोमीन, क्लोरीन, मर्करी और कैडमियम पाया जाता है, जो कि स्वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक होता है। आपको बता दे कि पुरुषो में नपुंसकता को भी बढ़ता है। मोबाइल में से पॉलीक्लोरीनेटेड बाईफिनायल्स रसायन निकलता है, जिसके कारण शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता घटती है। जब शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता ही ना होतो इंसान को कोई भी बीमारी बड़ी आसानी से हो जाती है।

अच्छा दिखने वाला फोन भी आपके स्वास्‍थ्‍य को खराब करने के लिए काफी है। एक शोध के अनुसार पर्यावरण और हमारी सेहत के लिए बहुत बड़ा खतरा साबित हो रहा है। शोध में कहा गया है कि जो रसायन इसमें इस्तेमाल किये गए हैं वह इंसान के शरीर को कमज़ोर तोह कर ही रहा है साथ ही में धातुओं की वजह से मिट्टी, पानी और हवा में जहर घुल रहा है। वही इस मिट्टी में हुए अनाज को खाने से आज कल अनेक बीमारियां जन्म लें रही हैं।