Covid-19 In Uttar Pradesh: देश भर में कोरोना का कहर जारी है. ऐसी-ऐसी खबरें आ रही हैं जो दिल चीर दें. बाकी प्रदेशों की तरह उत्तर प्रदेश का हाल भी कम बुरा नहीं है. ऐसे में यहां के एक डीएसपी ने ऐसा काम कर दिया, जो शायद ही किसी ने सोचा हो. पूरे प्रदेश में इसी की चर्चा हो रही है. Also Read - Corona Virus In India: फिक्र ना करें-साल के अंत तक सबको लग जाएगी कोरोना वैक्सीन! जानिए सरकार का प्लान

उत्तर प्रदेश में झांसी के क्षेत्राधिकारी (CO) सदर मनीष सोनकर ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है. उनके इस्तीफा देने की वजह है कोरोना पीड़ित पत्नी और अपनी 4 साल की बेटी की देखभाल के लिए छुट्टी न मिलना है. Also Read - रविवार को अपने वतन लौट सकते हैं आईपीएल में हिस्सा लेने आए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

अधिकारी ने अपना इस्तीफा देते हुए कहा है कि उन्हें अपनी कोरोना पॉजिटिव पत्नी की देखभाल के लिए छुट्टी नहीं मिली, इसलिए वह अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं. मनीष सोनकर सर्किल ऑफिसर सदर के रूप में तैनात हैं. Also Read - CoronaVirus In India: मिसाइल बनाने वाले हाथ आज Oxygen और दवा बना रहे, जानिए इस जीवन रक्षक को

दंपति की एक छोटी बेटी है और उसकी देखभाल करने वाला कोई नहीं है.

सोनकर ने कहा कि उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) झांसी, रोहन पी कनय को अपना इस्तीफा सौंप दिया है इससे ज्यादा उन्होंने विस्तार से कोई जानकारी नहीं दी.

एसएसपी झांसी ने कहा कि उन्हें पहले व्हाट्सएप पर इस मामले की जानकारी दी गई थी और बाद में उन्हें इस्तीफे की हार्ड कॉपी मिली, जिसे उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को भेज दिया है.

अधिकारी ने कथित तौर पर अपने बच्चे और बीमार पत्नी की देखभाल करने में सक्षम होने के लिए छह दिनों की छुट्टी मांगी थी, लेकिन उसे बडागांव में पंचायत चुनाव की मतगणना ड्यूटी सौंपी गई थी.

एसएसपी ने कहा कि जब वह मतगणना केंद्र की जांच करने गए तो सोनकर ड्यूटी से गायब थे.

उन्होंने कहा, “इस्तीफा संबंधित अधिकारियों को भेज दिया गया है. हमने उन्हें छह दिनों के लिए छुट्टी देने की भी मंजूरी दी है.”
(एजेंसी से इनपुट)