Covid-19 In Uttar Pradesh: देश भर में कोरोना का कहर जारी है. ऐसी-ऐसी खबरें आ रही हैं जो दिल चीर दें. बाकी प्रदेशों की तरह उत्तर प्रदेश का हाल भी कम बुरा नहीं है. ऐसे में यहां के एक डीएसपी ने ऐसा काम कर दिया, जो शायद ही किसी ने सोचा हो. पूरे प्रदेश में इसी की चर्चा हो रही है.Also Read - कोरोना ने बढ़ाई टेंशन, असम के इस जिले में जारी हुआ फरमान- नो मास्क, नो एंट्री, ये हैं गाइडलाइंस...

उत्तर प्रदेश में झांसी के क्षेत्राधिकारी (CO) सदर मनीष सोनकर ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है. उनके इस्तीफा देने की वजह है कोरोना पीड़ित पत्नी और अपनी 4 साल की बेटी की देखभाल के लिए छुट्टी न मिलना है. Also Read - यूपी सरकार के मंत्री आज देंगे अपने विभाग का रिपोर्ट कार्ड। Watch Details

अधिकारी ने अपना इस्तीफा देते हुए कहा है कि उन्हें अपनी कोरोना पॉजिटिव पत्नी की देखभाल के लिए छुट्टी नहीं मिली, इसलिए वह अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं. मनीष सोनकर सर्किल ऑफिसर सदर के रूप में तैनात हैं. Also Read - CoronaVirus In India Latest Update: कोरोना ने फिर पकड़ी रफ्तार, एक दिन में मिले 18,819 नए कोरोना मरीज, 39 लोगों की मौत

दंपति की एक छोटी बेटी है और उसकी देखभाल करने वाला कोई नहीं है.

सोनकर ने कहा कि उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) झांसी, रोहन पी कनय को अपना इस्तीफा सौंप दिया है इससे ज्यादा उन्होंने विस्तार से कोई जानकारी नहीं दी.

एसएसपी झांसी ने कहा कि उन्हें पहले व्हाट्सएप पर इस मामले की जानकारी दी गई थी और बाद में उन्हें इस्तीफे की हार्ड कॉपी मिली, जिसे उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को भेज दिया है.

अधिकारी ने कथित तौर पर अपने बच्चे और बीमार पत्नी की देखभाल करने में सक्षम होने के लिए छह दिनों की छुट्टी मांगी थी, लेकिन उसे बडागांव में पंचायत चुनाव की मतगणना ड्यूटी सौंपी गई थी.

एसएसपी ने कहा कि जब वह मतगणना केंद्र की जांच करने गए तो सोनकर ड्यूटी से गायब थे.

उन्होंने कहा, “इस्तीफा संबंधित अधिकारियों को भेज दिया गया है. हमने उन्हें छह दिनों के लिए छुट्टी देने की भी मंजूरी दी है.”
(एजेंसी से इनपुट)