अन्नाद्रमुक के 36 वर्षीय दलित विधायक ए. प्रभु की वास्तविक जीवन की प्रेम कहानी किसी फिल्म के क्लाइमैक्स की तरह मालूम पड़ती है. उन्होंने 19 वर्षीय प्रेमिका से शादी कर ली है. अब आप सोच रहे होंगे कि इसमें क्या फिल्मी है. फिल्मी ये है कि इस शादी से इलाके में सनसनी है क्योंकि लड़की एक ब्राह्मण परिवार से है.

कल्लाकुरिची निर्वाचन क्षेत्र के सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक विधायक ए. प्रभु ने लड़की के परिवार के कड़े विरोध के बावजूद सोमवार को कॉलेज छात्रा एस. सौंदर्या से शादी रचा ली.

शादी से नाराज एक स्थानीय मंदिर के पुजारी लड़की के पिता एस. स्वामीनाथन ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी का अपहरण कर लिया गया था. उन्होंने आत्मदाह करने की धमकी दी और जिला पुलिस ने उनके खिलाफ आत्महत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया.

कहा जाता है कि सौंदर्या अपने माता-पिता का घर छोड़कर निकल गई और शादी प्रभु के निवास पर हुई. प्रभु के माता-पिता भी अन्नाद्रमुक से जुड़े हैं.

बाद में प्रभु ने इन अफवाहों का खंडन किया कि उन्होंने सौंदर्या का अपहरण कर जबरन शादी की है. उन्होंने सौंदर्या के माता-पिता को धमकी देने से भी इनकार किया.

प्रभु ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से वह और सौंदर्या प्यार में थे. उनके अनुसार, उनके परिवार ने औपचारिक रूप से स्वामीनाथन से शादी के लिए सहमति मांगी थी. हालांकि, स्वामीनाथन ने साफ मना कर दिया.

प्रभु ने कहा कि उन्होंने अपने माता-पिता के आशीर्वाद के साथ सौंदर्या से शादी रचाई है.
(एजेंसी से इनपुट)