Sisters Criminal Gang: अपराध में लिप्त आदमियों का गिरोह तो आप रोज ही पढ़ते-सुनते होंगे, आज हम आपको तीन बहनों के खतरनाक गिरोह के बारे में बता रहे हैं. ये गिरोह मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश में सक्रिय था.Also Read - ऐसी कौन सी नौबत आ गई जो भोजपुरी एक्ट्रेस गुंजन पंत को यूपी में बेचनी पड़ी चूड़ियां, ठेला चलाती गलियों में आईं नज़र

खबर के मुताबिक, मुरादाबाद में सार्वजनिक परिवहन वाहनों, खासकर तीन पहिया वाहनों पर साझेदारी में यात्रा के दौरान महिला यात्रियों को लूटने के आरोप में तीन बहनों को गिरफ्तार किया गया है. Also Read - यूपी में उद्योगों को लगेंगे पंख, बिग-अल्फा और एमएसएमई स्टार्टअप फोरम के बीच हुआ करार

ये लुटेरी बहनें साल 2013 से मुरादाबाद और आसपास के जिलों में सक्रिय थीं. इन पर विभिन्न पुलिस स्टेशनों में लूट के कई मामले दर्ज हैं. Also Read - UP Elections 2022: BJP ने पहली ही लिस्‍ट में दिखाया OBC मैनेजमेंट, विरोधियों के आरोपों का क्‍या हुआ?

हाथ में एक बच्चा लिए ये बहने वाहनों में चढ़ती थीं और यात्रियों को लूट लेती थीं.

मुरादाबाद के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अमित कुमार आनंद ने कहा, “हालिया दिनों में सामने आए दो मामले सिविल लाइंस इलाके के थे, जहां ऑटो-रिक्शा में महिलाओं से बैग और महिला यात्रियों का सामान लूटे जाने की वारदात सामने आई.”

शहर में सक्रिय गिरोह पर नजर रखने के लिए पुलिस टीमों की नियुक्ति की गई.

आनंद ने कहा, “बीते शनिवार की रात को पुलिस ने सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले कटघर रोड पर घूमते हुए महिलाओं के गिरोह को गिरफ्तार किया.”

उन्होंने कहा, “पूछताछ के दौरान तीनों महिलाओं, जिनमें से बिजनौर की दो कविता और रिंकी और मेरठ की पूजा ने स्वीकार किया कि वे विभिन्न जिलों में यात्रियों को लूटती आ रही हैं.”

कविता और रिंकी शादीशुदा हैं और उनके पति घर की देखभाल करते हैं. इनके खिलाफ सिर्फ मुरादाबाद के कटघर पुलिस स्टेशन में ही करीब नौ मामले दर्ज किए गए हैं.

मुरादाबाद के सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन के एसएचओ नवल मारवाह ने कहा, “तीनों महिलाओं के कब्जे से चोरी के आभूषण बरामद कर लिए गए हैं और धारा 411 और 414 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है.”
(एजेंसी से इनपुट)