भारतीय रसोई में खाने का जायका बढ़ाने वाले कढ़ी पत्ते कितने गुणकारी है यह बात आज कल के आधुनिक युग में लोगो को पता नहीं है। बाल काले रखने से लेकर मोटापा कम करना तथा पेट के रोगो से निजात पाने तक कढ़ी पत्ते का उपयोग किया जा सकता है। कढ़ी पत्ता आयुर्वेद की एक ऐसी दवा है, जिसके उपयोग से व्यक्ति रोग मुक्त हो जाता है। आइए जानते है कढ़ी पत्ते के 10 ऑषधीय गुण।Also Read - Skin Care Tips Video: केले के छिलके रखते हैं एक्ने और ब्लैक हेड्स को दूर, आज ही अपनाएं और सुंदर त्वचा पाएं

कढ़ी पत्ते के 10 ऑषधीय गुण : Also Read - PMJAY Ayushman Mitra Registration: Free में आयुष्मान मित्र बनने का सुनहरा मौका, ऐसे करें ऑनलाइन Registration

1. काले मजबूत बालो के लिए नारियल के तेल में कढ़ी पत्ते को उबाल कर ठंडा होने पर इस्तमाल करें। Also Read - Health Tips : करी पत्ता का सेवन करने से मिलेंगे यह बेमिसाल फायदे, आज ही ट्राई करें | Watch

2. उल्टी और अपच में कढ़ी पत्ते को नींबू के रास में चीनी के साथ लेना फायदेमंद होता है।

3. कढ़ी पत्ते के नियमित इस्तमाल से आँखों की रोशनी अच्छी रहती है।

4. अगर आपके बाल अचानक से सफ़ेद हो रहे है या फिर झड़ रहे है तो आप कढ़ी पत्ते का सेवन करे या फिर उसका पाउडर बनाकर नियमित रूप से ले।

5. अगर आपको किडनी की तकलीफ है, तो कढ़ी पत्ते से मिल सकती है आपको राहत।

6. बवासीर की तकलीफ काम करने के लिए कढ़ी पत्तियों को शहद के साथ लेने से आराम मिलेगा।

7. अगर आप वजन कम करने की सोच रहे है तो रोज़ खाली पेट कुछ कढ़ी पत्ते चबाये और खुद को फिट बनाये।

8. दस्त और पेचिश से निजात पाने के लिए कढ़ी पत्तियों को शहद के साथ लेने से आराम मिलेगा।

9. डायबिटीज को कंट्रोल में लाने के लिए रोज़ 10 कढ़ी पत्तियों का सेवन करे 2 से 3 महीने।

10. रुसी से निजात पाने के लिए कढ़ी पत्ते का लेप बनाकर जड़ो में लगाये।

आयुर्वेद के इन नुस्खों का हम अगर अपने जीवन में सही तरीके से उपयोग करे तो हम अपने साथ साथ आने वाले युवा पीढ़ी को भी आयुर्वेद का महत्व समझा सकते हैं।