अगर आपसे कोई कहे कि दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहां पर शादी करने पर आपको लाखों रुपये मिलेंगे, तो शायद आप भरोसा ना कर पाएं. लेकिन ये सच है, दरअसल जापान सरकार की तरह से आपको 4.20 लाख रुपए दिए जाएंगे अगर आप एक नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं. हाल ही में जापान सरकार ने इस पहल की घोषणा की है जिससे आप अपनी नई शादीशुदा जिंदगी की बेहतर शुरुआत कर सकते हैं.Also Read - Tokyo Olympics 2020 Medal Count (29 July) : जापान, अमेरिका को पछाड़ चीन बना नंबर-1, भारत को दूसरे पदक का इंतजार, टॉप-10 लिस्‍ट

जापान में लोगों के पास पैसों की कमी है जिस वजह से लोग जल्दी शादी करने से भागते हैं और इसलिए वहां पर लगातार जन्म दर में गिरावट देखने को मिल रहा है. ऐसे में सरकार की ये घोषणा एक नई उम्मीद लेकर आई है, यह सहायता स्कीम अगले साल अप्रैल से शुरू होगी. सरकार देश में शादियों की संख्या को बढ़ाने के लिए यह स्कीम चलाएगी और अधिक से अधिक जोड़ों को आर्थिक सहायता प्रदान करेगी. तो चलिए जानते हैं आखिर क्या है ये पूरी स्कीम और किसको मिलेगा फायदा. Also Read - Tokyo Olympics 2020: मांसपेशियों में खिंचाव के कारण सिंगल स्पर्धा से हटे एंडी मर्रे; अब डबल्स पर होगा पूरा ध्यान

जापानी सरकार का फैसला
जापानी सरकार नवविवाहित जोड़ों को 600,000 येन (4.2 लाख रुपये) देगी, ताकि वो अपनी नई जिंदगी की शुरुआत कर सकें. दरअसल जापान में जन्मदर लगातार कम हो रहा है जिसकी वजह से जापान सरकार ने ये फैसला लिया है. सरकार शादीशुदा जोड़ों को घर का किराया और बाकि खर्चों में मदद करेगी. लेकिन इस दौरान एक शर्त भी है जिसमें पति-पत्नी की उम्र 40 साल से कम होनी चाहिए और दोनों की सालान आय 37 लाख रुपये यानि की 5.4 मिलियन से कम होनी चाहिए, तभी उन्हें इस पॉलिसी की फायदा मिलेगा. Also Read - भारत-जापान की साझेदारी वैश्विक स्थिरता के लिए अब और प्रासंगिक है: पीएम मोदी

35 साल वालों के लिए ये हैं नियम
35 की आयु वालों के लिए नियम थोड़े अलग है. इनकी आय अगर 33 लाख रुपए है तो उन्हें लगभग 2.1 लाख रुपए दिए जाएंगे. इससे जापान में देर से शादी करने वाले या नहीं करने वाली की वजह से जन्मदर पर पड़ रहे प्रभाव को करने का फैसला लिया गया है.

क्यों सरकार कर रही है ऐसा
असल में जापान में नई पीढ़ी शादी बहुत देर से करती है जिस वजह से वहां पर जन्मदर काफी गिर गया है. इसलिए सरकार अपने युवाओं को इस तरह के प्रस्ताव दे रही है ताकि वो शादी में रुची दिखाएं और साथ ही वहां पर जन्म दर को बढ़ाया जा सके. फिलहाल जापान में 100 से अधिक आयु वाले सबसे ज्यादा लोग हैं जो अपने आप में चिंता का कारण बनता जा रहा है.

क्यों है ऐसी हालत
दरअसल हाल ही में हुए एक सर्वे में ये पता चला है की वहां शादी ना करना की सबसे बड़ी वजह है पैसों की कमी. 25 से 34 साल के करीब 30 फीसदी युवाओं ने शादी से दूर बना ली है और आर्थिक स्थिती ठीक न होने का हवाला दिया है. ऐसे में सरकार की ये पहल वहां के युवाओं को कितनी लुभाती है ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा.