संभल (यूपी): संभल में एक नवविवाहित व्यक्ति ने अपनी पत्नी को अमरोहा स्थित अपनी ससुराल से वापस लाने के लिए पुलिस से मदद मांगी. हालांकि, जो पत्नी लॉकडाउन के कारण अपने मायके में फंसी हुई है, उसने लॉकडाउन हटने तक अपने पति के घर लौटने से इनकार कर दिया. खबरों के मुताबिक, कुछ महीने पहले इस व्यक्ति की शादी हुई थी और उसकी पत्नी लॉकडाउन की घोषणा से ठीक पहले अपने परिवार से मिलने गई थी. Also Read - Complete Lockdown in India: क्या पूरे देश में लॉकडाउन लगाएगी मोदी सरकार? अब कांग्रेस पार्टी ने भी की खास मांग

जब व्यक्ति ने पत्नी को फोन किया, तो उसने कहा कि पुलिस उसे जिला की सीमा में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दे रही है और उसे पुलिस की मंजूरी की आवश्यकता होगी. उस व्यक्ति ने अपनी पत्नी को आश्वस्त करते हुए कहा कि वह वापस बुलाने के लिए पास जारी करवाएगा, लेकिन महिला ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि अगर वे यात्रा करते हैं तो उन्हें कोरोनावायरस से संक्रमित होने का खतरा हो सकता है. शख्स ने अपनी सास से पत्नी को समझाने के लिए आग्रह किया, लेकिन वह अड़ी रही. Also Read - COVID-19: कोरोना महामारी ने 23 करोड़ भारतीयों को गरीबी में धकेला: रिपोर्ट

अंत में, वह व्यक्ति स्थानीय पुलिस स्टेशन पहुंचा और उसने अपनी कहानी सुनाई. उसने पुलिस से यह भी कहा कि उसकी मां अस्वस्थ है और अपनी बहू को देखना चाहती है. पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने कहा, “यह एक अलग मामला नहीं है. ऐसे कई लोग हैं जो दूसरे जिलों में फंसे हुए हैं और अपने परिवारों को घर लाने की अनुमति के लिए हमसे संपर्क कर रहे हैं. चूंकि यहां पूरी तरह से लॉकडाउन है, इसलिए जब तक हमें सरकार से आदेश नहीं मिलता तब तक ऐसी कोई अनुमति नहीं दी जा सकती है.” नोडल कोरोना अधिकारी डॉ. नीरज शर्मा ने कहा, “दूसरे जिलों में फंसे लोगों को जिले में प्रवेश करने से पहले थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और संदिग्ध लोगों को क्वारंटीन में रखा जाएगा.” Also Read - Nationwide Lockdown: क्या देश में लगने जा रहे Complete लॉकडाउन, जानें सरकार का जवाब