मुंबईः बॉलीवुड़ के मशहूर फैशन डिजाइनर मनीष मल्होत्रा को लगभग हर कोई जानता है. मनीष किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. बॉलीवुड के ज्यादातर कलाकारों के कपड़ों को वो ही डिजाइन करते हैं या यूं कहें कि किसी इवेंट या फंक्शन में बॉलीवुड सितारों को जाना होता है तो वे मनीष मल्होत्रा के कपड़े को पहनना ही पसंद करते हैं. मनीष मल्होत्रा आज के वक्त में एक बड़ा नाम है. लेकिन यह हमेशा नहीं था. हाल ही में एक इंटरव्यू में मनीष ने अपने जीवन के सबसे मुश्किल दिनों के बारे में बात की. यहां उन्होंने अपने जीवन से जुड़ी कई मुद्दों पर बात की. Also Read - Sushant Singh Rajput Death Case: CBI का बड़ा बयान, सुशांत की मौत की जांच अभी जारी है

इंटरव्यू के दौरान मनीष ने कहा कि करियर के शुरुआती दिनों में उन्होंने काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा है. साथ ही उन्होंने बताया कि आखिर कैसे उनके जीवन में बदलाव आए. मुंबई में जन्में मनीष मल्होत्रा ने बताया कि वह पंजाबी माहौल में पले बढ़े हैं. ऐसे में हमेशा से उनका झुकाव बॉलीवुड की तरफ था. एक समय था जब मैं बॉलीवुड की हर फिल्म को रिलीज होने पर देखता था. उन्होंने आगे कहा कि जल्द उनका लगाव फैशन की दुनिया से हो गया. फैशन के प्रति रुचि पैदा करने में फिल्मों का बड़ा योगदान रहा है. उन्होंने बताया कि पेटिंग करने को दौरान समय मिलने पर मैं मां के कपड़ो से नए-नए प्रयोग किया करता था. Also Read - Dilip Kumar Health Update: अस्पताल में ही रहेंगे दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार, जानिए कब मिलेगी छुट्टी

मनीष ने आगे कहा कि उन्होंने करियर की शुरुआत के मॉडल के तौर पर शुरु की. इस दौरान उन्हें 500 रुपये महीने की सैलरी पर एक बुटीक में काम मिला. विदेश जाकर फैशन की पढ़ाई करने के लिए उनके परिवार के पास पैसे नहीं थे. खुद की लग्न और मेहनत से जो भी कुछ सीखा है आज वह काम आ रहा है. उन्होंने बताया कि उन्होंने जूही चावला के साथ एक फिल्म में भी काम किया है. 1995 में रिलीज हुई फिल्म रंगीला ने उनके जीवन में काफी बदलाव लाया. इस दौरान मनीष मल्होत्रा को कॉस्ट्यूम डिजाइन के लिए फिल्म फेयर अवॉर्ड से नवाजा गया. आज ज्यादातर फिल्मी सितारे मनीष मल्होत्रा द्वारा डिजाइन किए गए कपड़े ही पहनते हैं. Also Read - Sushant Singh Rajput के पिता की याचिका फिल्‍म 'न्याय: द जस्टिस' की रिलीज के खिलाफ हाईकोर्ट ने की खारिज

फैशन डिजाइनर ने इंटरव्यू के अंत में कहा कि फरवरी 2018 में उनकी करीबी दोस्त श्री देवी की मौत से उनके गहरा धक्का लगा था. उन्होंने कहा कि जब मुझे श्री देवी की मौत के बारे में पता चला तो वह मेरे जीवन का सबसे दुखद पल था. पेशेवर व निजी रूप से यह मेरा बड़ा नुकसान था. उन्होंने बताया कि वे श्रीदेवी के डिजाइनर थे साथ ही उनकी दोनों बेटियों खुशी और जान्हवी के साथ भी वो काम कर रहे थे. उन्होंने कहा कि श्रीदेवी ने उनके काम को हमेशा आगे ही बढ़ाया है.