मुंबई की स्कूल छात्रा अनाश्रुता गांगुली ने दूसरे इंडो-कोरियन फ्रेंडशिप क्विज कॉन्टेस्ट-2020 में शीर्ष सम्मान हासिल किया है. बुधवार को एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

पवार पब्लिक स्कूल, चांदीवली की कक्षा 8वीं की छात्रा ने इनाम में दक्षिण कोरिया की छह दिवसीय निशुल्क यात्रा करने का पहला पुरस्कार जीता है.

उत्साहित छात्रा ने कहा, “इस क्विज में भाग लेने से पहले मुझे समृद्धता और विविधता से परिपूर्ण कोरियाई संस्कृति के बारे में बिल्कुल जानकारी नहीं थी. मुझे यह अब समझ में आया है कि कोरिया ‘पूर्व का दीपक’ है. मैं इस देश की यात्रा करने के लिए बेहद उत्साहित हूं.”

कोविड-19 के कारण फैली निराशा के बावजूद प्रतियोगिता में मुंबई समेत अन्य जगहों के 20 स्कूलों के 10 हजार से अधिक स्टूडेंट्स ने ऑनलाइन हिस्सा लिया था. प्रतियोगिता का फाइनल राउंड 22 सितंबर को आयोजित हुआ था.

कोरियाई सांस्कृतिक केंद्र भारत द्वारा आयोजित किया जाने वाला यह कॉन्टेस्ट मुंबई रीजन में अंतर्राष्ट्रीय विषय पर स्कूली छात्रों के लिए आयोजित होने वाले सबसे बड़े क्विज कॉन्टेस्ट में से एक है.

कोरियाई महावाणिज्य दूत किम डोंग यंग के अनुसार, इसका मकसद यह सुनिश्चित करना है कि भारतीय छात्र उनके देश के इतिहास, संस्कृति और संबंधित पहलुओं के बारे में अधिक जानें.

कॉन्टेस्ट में 10 हजार रुपये का दूसरा पुरस्कार जसुदबेन एमएल स्कूल, खार की छात्रा तारिणी पाडिया को मिला. 14 और विजेताओं को भी नकद पुरस्कार मिले हैं.
(एजेंसी से इनपुट)