पाकिस्तान जो कानून है उसके बारे में हम सब सब जानतें हैं। इस कानून को शरिया कानून के नाम से जाना जाता है। लेकिन इस बात से भी हम भलीभांति परचित हैं की आखिर किस तरह के कानून और बंधन महिअलों पर लगे होते हैं। जहां महिलाओं को पर्दे के पीछे रहना बेहतर मानते हैं। लेकिन पाकिस्तान में लड़कियों ने कुछ ऐसा किया जिसके बारे में सुनने वाला हैरान हो जाता है। और कहता है की आखिर पाकिस्तान में यह कैसे कर सकती है।Also Read - प्रधानमंत्री मोदी की सभी बैठकों में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का लिया गया संज्ञान: विदेश सचिव

Also Read - कौन हैं स्नेहा दुबे? UNGA में इमरान खान को जमकर लगाई फटकार, दुनिया के सामने खोलकर रख दी पाकिस्तान की पोल

पाकिस्तानी अखबार ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ के खबर की माने तो कुछ लड़कियों ने बड़े अनोखे अंदाज में अपना विरोध प्रदर्शन किया और उन्होंने यूनवर्सिटी की दीवारों पर सैनिटरी पैड्स चिपका दिया। आप को बता दें लड़कियों ने अपने इस विरोध प्रदर्शन के माध्यम से मेंसुरल स्टिग्मा को खत्म करने का संदेश दिया। लड़कियों के विरोध प्रदर्शन के अंदाज और कारण की अब चर्चा पुरे पकिस्तान में है। आप को बता दें की लगातार इस रिवाज को लेकर कई देशो में प्रदर्शन हो चूका है। यह भी पढ़ें : पीरियड्स के समय होने वाले तेज दर्द से बचने के सरल उपाय Also Read - UNGC में भारत ने पाक के कश्‍मीर राग अलापने और गिलानी को शहीद को बताने पर किया पलटवार

आप को बता दें की पाकिस्तान के बीकॉन हाउस नेशनल यूनिवर्सिटी जहां पर लाहौर की कुछ लड़कियों ने लड़कों के साथ मिलकर अपने अंदाज में विरोध प्रदर्शन करने का फैसला लिया और उसके बाद उन्होंने इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी एंड लिबरल आर्टस डिपार्टमेंट यूनवर्सिटी की दीवारों पर सैनिटरी पैड्स चिपका दिया।