लंदन। उत्तरी इंग्लैंड की रहने वाली पाकिस्तानी मूल की एक छात्रा मिस इंग्लैंड सौंदर्य प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाने वाली ऐसी पहली प्रतिभागी बन गयी जो हिजाब पहनती है. सारा इफ्तिखार इंग्लैंड के पश्चिमी यॉर्कशायर क्षेत्र में स्थित हडर्सफील्ड विश्वविद्यालय में कानून की छात्रा है. उसने जुलाई में मिस हडर्सफील्ड 2018 खिताब जीता था और अब मंगलवार की शाम को 49 दूसरी प्रतिभागियों के साथ मिस इंग्लैंड के ताज के लिए प्रतिस्पर्धा करेगी. Also Read - पाकिस्तान के संघर्ष विराम उल्लंघन में घायल भारतीय जवान शहीद

Also Read - पाकिस्तान की अदालत ने मुंबई हमले के षडयंत्रकर्ता हाफिज सईद के तीन सहयोगियों को सुनाई सजा

मेकअप आर्टिस्ट है सारा Also Read - Desert Knight 21: आसमान में पहली बार गरजे राफेल, भारत-फ्रांस की एयरफोर्स ने किया युद्धाभ्यास

बीस साल की छात्रा मेकअप आर्टिस्ट के रूप में भी काम करती है और सोशल मीडिया पर लोकप्रिय है. उसने कहा, मुझे उम्मीद नहीं थी कि मैं इतिहास रचूंगी. मुझे फख्र महसूस हो रहा है. मैं शायद (मिस इंग्लैंड के फाइनल में) हिजाब पहनने वाली पहली महिला हो जाऊं. हालांकि मैं एक साधारण सी लड़की हूं और हम सबके पास इस प्रतियोगिता में बराबर का मौका होगा.

डेनमार्क में सार्वजनिक जगहों पर पूरे चेहरे पर हिजाब पहनने पर पाबंदी

नॉटिंघमशायर के नेवार्क में स्थित केल्हम हॉल में मंगलवार की रात होने वाले कार्यक्रम की विजेता इस साल दिसंबर में चीन के सान्या में आयोजित होने वाली मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में देश का नेतृत्व करेगी.