आज दुनिया विश्व महिला दिवस मना रही है लेकिन केरल के एक कॉलेज की छात्राएं अपनी निजता के अधिकारों के लिए प्रदर्शन कर रही हैं। केरल के एक नर्सिंग कॉलेज के प्रिंसिपल ने लड़कियों को आदेश दिया है कि वो कपड़े बदलते वक्त भी अपने कमरे का दरवाजा बंद ना करें। लड़कियों की निजता पर यह हमला उन्हें नागवार गुजरा और वो इसका विरोध कर रही हैं।Also Read - देश के कई राज्‍यों में टमाटर के भाव और बढ़े, यहां 140 से 160 रुपए प्रति किलो बिक रहा

स्टूडेंट्स का कहना है कि प्रिंसपिल को लगता है हम दरवाजा बंद करके गंदी हरकतें करते हैं। इसीलिए कहा गया है कि रूम का दरवाजा लॉक ना करें। अगर लड़कियों को कपड़े भी बदलने हैं तो वे गेट से कोई कुर्सी वगैरह सटा दें। लेकिन दरवाजा ल़ॉक ना करें। फिलहाल इस मामले पर कॉलेज प्रशासन ने कोई सफाई नहीं दी है। Also Read - CBSE Board Exam 2021 Date: सीबीएसई बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए बड़ी खबर, पेपर के दिन ही होगा मूल्यांकन; इस राज्य में भी होंगे एग्जाम

यह भी पढ़ेंः भैंस से सवाल पूछने वाले पाकिस्तानी पत्रकार का एक और फनी वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल Also Read - Top 5 Honeymoon Destinations in India: शादी के बाद हनीमून पर कहां जाएं? भारत की सबसे फेमस और बजट फ्रेंडली हनीमून डेस्टिनेशन | Watch Video

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विरोध कर रही छात्राओं ने आरोप लगाया कि हमें लाइब्रेरी का इंटरनेट भी इस्तेमाल नहीं करने दिया जाता। प्रिंसिपल को लगता है कि हम वहां पोर्न फिल्में देख सकते हैं। स्टूडेंट्स के विरोध को देखते हुए कॉलेज हफ्ते भर के लिए बंद कर दिया गया है। फिलहाल इस मसले का कोई समाधान होता नहीं दिख रहा है।

अपने कमरे में प्रत्येक व्यक्ति की अपनी निजता होती है। मोरल पुलिसिंग के चक्कर में किसी के बडरूम में तो नहीं झांका जाना चाहिए। कॉलेज प्रिंसिपल का यह फैसला पहली नजर में तो उचित नहीं ठहराया जा सकता।