Republic Day 20 Feb 2021: गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को ही मनाया जाता है. अब आप सोच रहे होंगे कि भला ये कैसी बात हुई…राष्ट्रीय पर्व तो निश्चित दिन पर ही मनाए जाते हैं. पर आज हम आपको देश की एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां फरवरी में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है.Also Read - 26 जनवरी को लाल किले पर नहीं हुआ तिरंगे का अपमान, वीडियो में नहीं दिखी ऐसी कोई बात: शिवसेना

ये जगह है उज्जैन का बड़ा गणेश मंदिर. इस मंदिर के बारे में आपने पहले भी सुना होगा. हिंदू धर्म के बड़े मंदिरों में से एक माना जाता है. Also Read - Republic Day Violence: गणतंत्र दिवस हिंसा के खिलाफ याचिकाओं पर बुधवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, लाल किले पर फहराया गया था धार्मिक ध्वज

इस मंदिर में हर साल गणतंत्र दिवस 26 जनवरी नहीं बल्कि फरवरी माह की ही किसी तिथि को मनाया जाता है. Also Read - Farmers Protest: संयुक्त किसान मोर्चा का दावा, ट्रैक्टर परेड के बाद से लापता हैं 100 से अधिक लोग; किया गया समिति का गठन

क्यों फरवरी में मनाते हैं गणतंत्र दिवस
ये करने के पीछे जो तर्क है, वह भी जान लीजिए. दरअसल, इस मंदिर में अंग्रेजी नहीं बल्कि हिंदू तिथि के अनुसार गणतंत्र दिवस मनाया जाता है. सालों से ये पंरपरा चली आ रही है.

पंडितों का कहना है कि 26 जनवरी 1950 को जब पहली बार गणतंत्र दिवस मनाया गया, उस दिन माघ मास शुक्ल पक्ष अष्टमी तिथि थी. इसी के मुताबिक हर साल माघ माह अष्टमी को ही मंदिर में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है.

इस साल ये तिथि 20 फरवरी को है. इसलिए इस साल इसी दिन गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा.

इस मौके पर बड़े गणेश मंदिर में भगवान बड़े गणेश का महाभिषेक किया जाता है. तिरंगा फहराया जाता है. स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी जाती है. मंदिर के शिखर पर नया ध्वज लगाया जाता है.