Humming Sound Of The Universe: ब्रह्मांड के कई रहस्य अब तक अनसुलझे हैं. फिल्मों में अक्सर देखा जाता है कि हमें ब्रह्मांड से कोई सिग्नल मिल रहा है. भले ही फिल्मों की ये बातें काल्पनिक हों, लेकिन हाल में वैज्ञानिकों को ब्रह्मांड से कुछ ऐसी आवाजें सुनाई दी हैं, जो ‘हम’ की ध्वनि के जैसा है. हालांकि यह ध्वनि नहीं है, क्योंकि अंतरिक्ष में ध्वनि के पैदा होने के लिए वहां कोई मीडियम मौजूद नहीं है. यह सिग्नल गुरुत्वाकर्षण तरंगों के कारण पैदा हुआ हो सकता है.Also Read - A200TZ3/Asteroid: पृथ्वी की तरफ बढ़ रहा क्षुद्रग्रह 3945, जानें कब होगा धरती के सबसे करीब

‘हम’ का पता उत्तर अमेरिकी नैनो हर्ट्ज ऑब्जर्वेटरी फॉर ग्रेविटेशनल वेव्स (NANOGrav) द्वारा लगाया गया है और इसके निष्कर्षों को ‘एस्ट्रोफिजिकल जर्नल लेटर्स’ में प्रकाशित किया गया है. बता दें कि NANOGrav ‘पल्सर’ से संकेतों का अध्ययन कर रहा है, जिसे आमतौर पर यूनिवर्स के समय के रूप में संदर्भित किया जाता है. यह डेटा इकट्ठा करने के लिए रेडियो तरंगों का उत्सर्जन करता है जो गुरुत्वाकर्षण तरंगों के प्रभावों का संकेत हो सकता है. Also Read - NASA के इन्जेन्यूटी हेलीकॉप्टर ने मंगल पर पर्सेवेरेंस रोवर के मलबे की तस्वीरें भेजीं, 18 फरवरी 2021 को लैंड हुआ था

Also Read - धरती पर मंडरा रहा खतरा, पृथ्वी से सौर तूफान के टकराने की आशंका, मोबाइल भी हो सकते हैं खराब, NASA ने दी चेतावनी

इस रिसर्च से मुख्य शोधकर्ता जोसेफ सिमोन ने कहा, ‘डेटा के आधार पर इस आवाज के मजबूत सिग्नल मिले हैं. उन्होंने बताया है कि ये सिग्नल पूरे ऑब्जर्वेशन के दौरान मिला है. इसलिए यह दावा करने के लिए कि यह कहां से पैदा हुआ है इसे और स्टडी किया जाना है. हालांकि हम अभी तक यह नहीं कह सकते हैं कि क्या यह संकेत वास्तव में गुरुत्वाकर्षण तरंगों से पैदा हुआ है. उसके लिए हमें और अधिक डेटा की आवश्यकता होगी.’

इससे पहले, नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (NASA) के वैज्ञानिकों ने सूर्य की आवाज को रिकॉर्ड किया था. नासा ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी थी. NASA ने यह ट्वीट जुलाई 2018 में किया गया था. साथ ही नासा ने कहा था कि – ‘सूरज शांत नहीं’ है.