नई दिल्ली: दुनिया में हर दिन कुछ न कुछ अच्छा और बुरा घटित होता है. इनमें से कुछ घटनाएं वक्त के साथ भुला दी जाती हैं और कुछ इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाती हैं. इतिहास के पन्नों में आज का दिन यानि 15 अक्टूबर भी अपने आप में कुछ ऐसी ही विशेषताएं समेटे हुए है. Also Read - 2020 Nobel Peace Prize: वर्ल्ड फूड प्रोग्राम को मिला 2020 का नोबेल शांति पुरस्कार, जानिए क्या है WFP?

Also Read - Trump Nomination For Nobel Peace: नोबेल शांति पुरस्कार-2021 के लिए ट्रंप नामित, ट्विटर पर हंस-हंसकर उल्टी कर रहे लोग

Also Read - ड्वेन ब्रावो को क्यों बोलना पड़ा कि वह बदला या 'जंग' नहीं बल्कि समानता चाहते हैं, जानिए वजह

खागोशी मामला: तुर्की के राष्ट्रपति ने सऊदी किंग से की वार्ता

आज का दिन इतिहास में भारत के मिसाइल और परमाणु हथियार कार्यक्रम को फौलादी और अभेद बनाने वाले पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम के जन्मदिन के तौर पर दर्ज है. बेहद सहज और सरल दिखाई देने वाले मृदुभाषी कलाम की रहनुमाई में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ने सबसे घातक और मारक हथियार प्रणालियों का देश में ही विकास किया. 15 अक्टूबर 1931 को जन्मे कलाम देश के युवाओं को देश की सच्ची पूंजी मानते थे और बच्चों को हमेशा बड़े सपने देखने के लिए प्रेरित करते थे. केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल समेत विभिन्न राजनेताओं व जानी मानी हस्तियों ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी.

देश दुनिया के इतिहास में आज की तारीख में दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है-

15 अक्टूबर 1931 : पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन ए पी जे अब्दुल कलाम का जन्मदिन

15 अक्टूबर 1934 : चीन के कम्युनिस्टों ने दस हजार किलोमीटर की यात्रा शुरू की, जिससे कम्युनिस्ट क्रांति का आधार दक्षिणपूर्व चीन से बदलकर उत्तर पश्चिम चीन हो गया और माओ सेतुंग चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अविवादित नेता के रूप में उभरे.

15 अक्टूबर 1951 : अमेरिकी टेलीविजन के हास्य धारावाहिक ‘आई लव लूसी’ का प्रसारण शुरू. इसमें लूसील बॉल और उनके पति डेसी एरनाज ने प्रमुख भूमिकाएं निभाईं. यह धारावाहिक दुनियाभर में खूब देखा और सराहा गया.

शत्रुघ्न सिन्हा ने राफेल सौदे के बहाने मोदी सरकार पर किए हमले, बीजेपी को हराने की अपील की

15 अक्टूबर 1964: सोवियत संघ के तेजतर्रार नेता निकिता ख्रुशनेव ने अचानक सन्यास लेने का ऐलान किया, जिससे पश्चिमी देश हैरान रह गए.

15 अक्टूबर 1969 : सोमालिया के राष्ट्रपति कैब्दीराशिद केली शेरमार्के की हत्या.

15 अक्टूबर 1987 : बुर्किना फासो में सैनिक विद्रोह में शासन प्रमुख थामस संकारा का तख्ता पलट करने के बाद उनकी और आठ अन्य की हत्या.

15 अक्टूबर 1993 : दक्षिण अफ्रीका के नेता नेल्सन मंडेला और एफ डब्ल्यू क्लार्क को रंगभेद को शांतिपूर्ण ढंग से खत्म करने और नए लोकतांत्रिक दक्षिण अफ्रीका की नींव रखने पर नोबेल शांति पुरस्कार के लिए चुना गया.

15 अक्टूबर 2003 : अंतरिक्ष में मानवयुक्त यान भेजने वाला चीन तीसरा देश बना. (इनपुट भाषा)