Amazing Video: न्यूजीलैंड में नवनिर्वाचित सांसद डॉक्टर गौरव शर्मा चर्चा में हैं. वजह है उन्होंने संसद में पद की शपथ संस्कृत में ली है. वे ऐसा करने वाले भारतीय मूल के पहले व्यक्ति बन गए हैं. Also Read - Tandav Controversy: सैफ अली खान के 'तांडव' के इस डायलॉग पर मचा है बवाल!

ना केवल न्यूजीलैंड बल्कि विदेश में किसी भारतीय मूल के व्यक्ति द्वारा संस्कृत में शपथ लेने का यह अनोखा मामला है, जो अपने आप में रिकॉर्ड है. Also Read - Tandav Controversy: सैफ अली खान के 'तांडव' में क्या है ऐसा जिससे नाराज़ हैं बीजेपी नेता? लोग कर रहे हैं बैन की मांग

शपथ समारोह के बाद डॉक्टर गौरव पूरी दुनिया में चर्चा के विषय बन गए हैं. 33 साल के शर्मा भारत के हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं.

कौन हैं डॉक्टर गौरव
हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के रहने वाले हैं. अक्टूबर में हुए चुनावों में न्यूजीलैंड में सांसद चुने गए.

डॉ गौरव ने न्यूजीलैंड के हेमिल्टन सीट पर लेबर पार्टी के टिकट पर जीत दर्ज की थी. शर्मा को 15873 मत मिले थे, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी को 11487 मत मिले थे.

डॉ. गौरव शर्मा का जन्म एक जुलाई 1987 को जिला मंडी के सुंदरनगर में हुआ है. गौरव ने हमीरपुर, धर्मशाला, शिमला और न्यूजीलैंड में शिक्षा प्राप्त की है.

गौरतलब है कि शर्मा के पिता सरकारी नौकरी छोड़कर न्यूजीलैंड शिफ्ट हो गए थे.