नई दिल्ली: विश्व पर्यावरण दिवस हर साल 5 जून को मनाया जाता है. इस बार 45वां विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जा रहा है. विश्व और देश में बढ़ रहे प्रदूषण के बीच पर्यावरण दिवस का महत्व ओर भी बढ़ गया है. लेकिन इस दिवस की महत्ता तभी है जब हम पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए गंभीरता से प्रयास करें. Also Read - SC ने यमुना नदी में प्रदूषण पर लिया संज्ञान, हरियाणा सरकार से जवाब- तलब किया

विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास
वर्ष 1972 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा मानव पर्यावरण विषय पर संयुक्त राष्ट्र महासभा का आयोजन किया गया था. इसी चर्चा के दौरान विश्व पर्यावरण दिवस का सुझाव भी दिया गया और इसके दो साल बाद, 5 जून 1974 से इसे मनाना भी शुरू कर दिया गया. विश्व पर्यावरण दिवस को मनाने के लिए हर साल 143 से ज्यादा देश हिस्सा लेते हैं. इस दिवस को मनाने के पीछे उद्देश्य है कि लोगों को इस बारे में जागरूक किया जा सके कि आखिर क्यों पर्यावरण की सुरक्षा जरूरी है. Also Read - Delhi NCR Pollution: दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में बढ़ा प्रदूषण, NCR का यह शहर सबसे ज्यादा प्रदूषित

भारत करेगा मेजबानी
5 जून 2018 को मनाए जा रहे 45वें विश्व पर्यावरण दिवस की मेजबानी भारत सरकार द्वारा की जाएगी. विश्व पर्यावरण दिवस 2018 की थीम ‘बीट प्लास्टिक पोल्यूशन’ रखी गई है, यानी प्लास्टिक से होने वाले प्रदूषण को कैसे खत्म किया जा सकता है. Also Read - Tips: बाहर से भी ज्यादा जहरीली हो सकती है आपके घर की हवा, इन गलतियों को तुरंत सुधारे

ऐसे करें पर्यावरण की सुरक्षा
-अपने आस-पास छोटे पौधें हो या बड़े वृक्ष लगाएं.
-अपने या बच्चों के जन्मदिन हो या कोई भी यादगार क्षण पेड़ लगाकर उन यादों को चिरस्थाई बनाएं.
-घर का कचरा सब्जी, फल, अनाज को पशुओं को खिलाएं
-पॉलीथीन का उपयोग ना करें.सब्जी व सामान के लिए कपड़े की थैलियां गाड़ी में, साथ में सदा रखें.
-अगर आपको इधर उधर थूकने की आदत है तो सुधारें.
– नई पीढ़ी को प्रकृति, पर्यावरण, पानी व पेड़-पौधों का महत्व समझाएं.
– बिजली के बिल में कटौती करने वाले उपाय सोचो.
-पुराने बल्ब पर जमी धूल पोंछने पर कमरे में दो के बजाय एक ही बल्ब से काम चल जाएगा.
-गर्म पानी से नहाने की आदत बदलोगे तो भी चल सकता है.
-किसी भी पुरानी चीज को फेंकने के बजाय उसका दूसरा इस्तेमाल जरूर सोचें.
-फ्रिज के पानी के बजाय मटके का ठंडा पानी ज्यादा बेहतर है.
-अपने स्कूटर व कार आदि वाहन की समय पर सर्विस करवाते रहिए.