फोटो क्रेडिट-Getty Images Also Read - बिहार में कारनामा: मृत डॉक्टर को प्रमोशन कर बनाया सिविल सर्जन, विधानसभा में जोरदार हंगामा

आज विश्व मच्छर दिवस है। हमारे देश में लोगो ज्यादातर बीमारियो इन मच्छरों के चलते होती है। क्योंकि ये मच्छर बड़े पैमाने पर लोगो को हानि पहुँचते है। यही कारण है हर भारतीय इन मच्छरों से परेशान रहता है। डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियां दिन में काटनेवाले मच्छरों द्वारा फैलती है। Also Read - Eating Habits During COVID-19 : कोरोना काल में खुद को रखना चाहते हैं सुरक्षित तो डॉक्टर से जानें कैसे बनाए अपना Diet Plan

डेंगू और मलेरिया के चलते भारत में हजारो लोगो को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। जैसी जरा सी गंदगी कही हुई ये मच्छर वहां दस्तक दे देते है और फिर लोगो को काट लेते है। जिससे आम नागरिक बीमार हो जाते है। साथ ही डेंगू और मलेरिया का कहर अक्सर देखने में भी मिलता है। Also Read - बिहार के जूनियर डॉक्टर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, इन मांगों पर अड़े, स्वास्थ्य सेवायें प्रभावित

इसलिए गोदरेज ने विश्व मच्छर दिवस के अवसर पर देश के हर कोने से मच्छरों का सफाया करने का अभियान आज से शुरू करने के साथ ही हिट ट्रैक द बाइट ऐप लांच किया है जो क्षेत्र विशेष में डेंगू या मलेरिया जैसी बीमारियों के खतरे का स्तर बताएगा। साथ ही हिट-ट्रैक द बाइट ऐप के बारे में भी बताया जायेगा जो लोगों को डेंगू के बारे में सूचित और सुरक्षित रहने में मददगार है।

गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (GCPL) के भारत और दक्षेस के कारोबार प्रमुख सुनील कटारिया ने कहा कि इस अभियान के तहत लोगों में डेंगू जैसे मच्छरजनित रोगों के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से गोदरेज ने काला हिट कैंन्टर रवाना किया है जो दिल्ली से बेंगलूर तक 20 से अधिक शहरों का भ्रमण करता हुआ कुल 4000 किलोमीटर से अधिक की यात्रा करेगा।

देश के किसी भी हिस्से में डेंगू या मलेरिया जैसी बीमारियों के खतरे के स्तर की जांच कर ऐप के ईजी शेयर से अपने परिजनों और दोस्तों को आवश्यक कदम उठाने की सलाह दी जा सकती है। ऐप से SMS के माध्यम से भी अलर्ट भेजा जा सकेगा।