कोलकाता: 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की 157वीं जन्मतिथि है, जिसे भारत में 12 जनवरी को प्रतिवर्ष राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है. संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्णयानुसार सन् 1984 ई. को ‘अन्तरराष्ट्रीय युवा वर्ष’ घोषित किया गया था. स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन के अवसर पर बीजेपी सरकार कोलकाता में रैली निकालने वाली थी, लेकिन फिलहाल इस फैसले को स्थगित किया गया है और कई जिले में रैली निकालने की तैयारी की जा रही है. सूत्रों के अनुसार, पहले 12 को श्यामबाजार पांच माथा मोड़ से शिमला स्ट्रीट के विवकानंद के घर तक रैली निकाली जाने वाली थी जिसमें शुभेंदु अधिकारी, कैलाश विजयवर्गीय, दिलीप घोष व अन्य नेता शामिल होने वाले थे.Also Read - कलकत्ता हाईकोर्ट से BJP नेता शुभेंदु अधिकारी को बड़ी राहत, दंडात्मक कार्रवाई पर रोक बरकरार

भाजपा नेता शंकुदेव पाण्डा ने बताया कि पार्टी की ओर से निर्णय लिया गया है कि 12 को उक्त रैली स्थगित करते हुए निर्णय लिया गया है कि इस दिन राज्य भर के सभी जिलों में रैली निकाली जाएगी क्योंकि चुनाव से पहले इस तरह की रैली सभी जिलों में जरूरी है. वहीं दूसरी ओर सूत्रों का कहना है कि इस दिन कोलकाता में तृणमूल का भी कार्यक्रम है और ऐसे में भाजपा कोलकाता में रैली निकालकर किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती. पार्टी यह नहीं चाहती कि ईश्वरचंद्र विद्यासागर की तरह इस बार स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को किसी तरह का नुकसान पहुंचाकर फिर भाजपा पर आरोप लगाये जाएं. इस कारण कोलकाता की रैली स्थगित करने का निर्णय लिया गया है. Also Read - West Bengal News: पश्चिम बंगाल विधानसभा में CBI, ED अधिकारियों के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस

1984 में भारत सरकार ने की थी घोषणा  Also Read - Liquor Prices in West Bengal: पश्चिम बंगाल में शराब की कीमतों में कमी को लेकर विधानसभा में हंगामा, भाजपा का वाकआउट

अध्यात्म के क्षेत्र में स्वामी विवेकानंद के योगदान के लिए 1984 में भारत सरकार ने उनकी जयंती के दिन युवा दिवस मनाने की घोषणा की थी. इसके महत्व का विचार करते हुए भारत सरकार ने घोषणा की थी कि सन 1984 से 12 जनवरी यानी स्वामी विवेकानन्द जयन्ती का दिन राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में देशभर में सर्वत्र मनाया जाए.