कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में हलचल शुरू हुई है. बीजेपी (BJP) जल्द ही ये फैसला ले सकती है कि जहाँ वह टीएमसी से कम अंतर से हारी है, वहाँ फिर से मतगणना कराने को लेकर कोर्ट का रुख किया जाए या नहीं. बीजेपी चाहती है कि कई जगहों के वोटों की गिनती फिर से की जाये. भाजपा इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को कहा कि पार्टी उन सीटों पर पुनर्गणना का अनुरोध अदालत से करने के विकल्पों पर मंथन कर रही है जहां भाजपा हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनाव के दौरान बेहद कम मतों के अंतर से पराजित हुई.Also Read - अनुच्छेद 370 हटाये जाने के दो साल पूरे होने पर भाजपा ने फहराया तिरंगा, पीडीपी ने शोक दिवस करार दिया

दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने मुर्शिदाबाद में संवाददाताओं से कहा, ‘ हम इस मुद्दे पर अपने वकीलों से चर्चा कर रहे हैं.’ हाल ही में तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने नंदीग्राम (Nandigram) समेत पांच सीटों पर वोटों की दोबारा गिनती किए जाने का अनुरोध करते हुए कलकत्ता उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी. Also Read - संसद का सम्मान कांग्रेस के संस्कार में नहीं: भाजपा

इन सीटों पर तृणमूल कांग्रेस मामूली अतंर से हार गई थी. इसके बाद अब घोष का यह बयान सामने आया है. नंदीग्राम सीट पर पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पूर्व में उनके सहयोगी रहे भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से 1956 वोट से चुनाव हार गई थीं. Also Read - UP: Cycle Yatra से पहले अखिलेश यादव का दावा, ....लगता है सपा जीतेगी 400 सीटें