Board Result 2021 Update: पश्चिम बंगाल उच्चतर माध्यमिक परिषद ने 12वीं कक्षा के विभिन्न अनुत्तीर्ण छात्रों के विरोध प्रदर्शन के कुछ दिन बाद सभी फेल छात्रों को उत्तीर्ण घोषित करने का ऐलान किया. डब्ल्यूबीसीएचएसई का अनुमान है कि अनुत्तीर्ण छात्रों की अनुमानित संख्या करीब 18 हजार है. उसने पत्रकारों को बताया कि परिषद ने कोविड-19 की स्थिति में छात्रों को आने वाली कठिनाइयों को देखते हुए सहानुभूतिपूर्वक मूल्यांकन में संशोधन करके उन सभी को उत्तीर्ण घोषित किया.Also Read - BJP छोड़ राजनीति से संन्यास का किया था ऐलान, 'दीदी की TMC' आकर बोले बाबुल सुप्रियो-अब खुश हूं

परिषद की अध्यक्ष महुआ दास से जब पूछा गया कि क्या करीब 18 हजार अनुत्तीर्ण परीक्षार्थियों को उत्तीर्ण घोषित कर दिया गया है तो उन्होंने कहा, ‘हां, उन लोगों को छोड़कर जिन्होंने कक्षा 12 के लिए अपना नामांकन नहीं कराया था. दुर्भाग्य से, कुछ छात्र जिन्होंने 12वीं कक्षा के लिए अपना नामांकन नहीं कराया था, वे भी आंदोलन में शामिल हुए थे.’ हालांकि, उन्होंने ऐसे छात्रों की संख्या नहीं बताई. Also Read - Bengal News: अर्पिता घोष को तृणमूल कांग्रेस की बंगाल इकाई का महासचिव बनाया गया

छात्र मांग कर रहे थे कि उन्हें उत्तीर्ण घोषित किया जाए, क्योंकि इस साल महामारी के कारण कोई परीक्षा नहीं हुई थी. 22 जुलाई को घोषित किए गए परिणाम में उच्चतर माध्यमिक कक्षा के 8,19, 202 परीक्षार्थियों में से 97.69 प्रतिशत उत्तीर्ण हुए थे. Also Read - Bengal News: केंद्र सरकार ने BJP सांसद अर्जुन सिंह को दी 'Z' श्रेणी की सुरक्षा

(इनपुट: भाषा)