कोलकाता: बंगाल में विधानसभा चुनाव 2021 से पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच जुबानी जंग तेज है. तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच तना-तनी साफ देखी जा सकती है. राज्‍य सरकार तृणमूल कांग्रेस के सांसद व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने भाजपा नेताओं को चुनौती दी कि तोलेबाजी (वसूली) के दोषी पाए जाने पर सार्वजनिक रूप से उन्हें फांसी के फंदे पर चढ़ा दें और कोई भी गलत काम करते हुए पाए जाते हैं तो वह मौत को गले लगाना पसंद करेंगे.Also Read - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री Mamata Banerjee, की यह मांग

इधर, उनके बयान पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने जवाब में तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि रस्सी तैयार करके रखो. उन्होंने कहा कि गो व कोयला तस्करी मामले में फरार चल रहे तृणमूल नेता विनय मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद कितने रुपये तोलेबाजी में कमाए हैं, सब सामने आ जाएगा. बता दें कि सीबीआई कोयला व गो तस्करी के आरोप में युवा तृणमूल के महासचिव विनय मिश्रा को तलाश रही है. Also Read - Bengal Lockdown Update: बंगाल में 30 नवंबर तक बढ़ीं कोरोना पाबंदियां, अतिरिक्त छूट भी दी गई; जानें गाइडलाइंस

हाल में आयकर विभाग सहित कई एजेंसियों ने उनके घरों पर छापेमारी भी की थी. वह कथित रूप से अभिषेक बनर्जी के काफी करीबी माने जाते हैं. विजयवर्गीय ने अभिषेक के बयान पर कहा कि भावुक दांव नहीं चलेगा. जिस दिन विनय मिश्रा की गिरफ्तारी होगी, उसी दिन पता लग जाएगा कि कितने करोड़ रुपये तोलाबाजी में अभिषेक ने कमाया है? Also Read - UP कांग्रेस के नेता राजेश पति त्र‍िपाठी और उनके बेटे ललितेश पति त्र‍िपाठी TMC में शामिल हुए

फांसी पर चढ़ने के बयान पर उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि रस्सी तैयार करके रखो. भाजपा महासचिव ने आगे कहा कि जिस तरीके से गाय माफिया, बालू माफिया, कोयला माफिया, सिंडिकेट राज का पैसा कथित तौर पर अभिषेक के पास पहुंचा है उनके प्रमाण सामने आ जाएंगे. इतना ही नहीं आगे उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता देखेगी कि ‘मां, माटी, मानुष’ के नाम पर प्रदेश की जनता को ‘भाइपो’ ने ममता जी की आड़ में कितना चूना लगाया है ?