Rajib Banerjee Resigns From Mamata Cabinet: पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी को एक और झटका लगा है. राज्य मंत्रिमंडल में उनके सहयोगी और टीएमसी के वरिष्ठ नेता राजीब बनर्जी ने अपना पद छोड़ दिया है. राजीब बनर्जी राज्य सरकार में वन मंत्री थे. राजीब बनर्जी की नाराजगी की चर्चा काफी समय से थी. वह पिछले कुछ समय से ममता सरकार की कैबिनेट बैठक में शामिल नहीं हो रहे थे.Also Read - IAS Cadre Rules में बदलाव करने जा रही मोदी सरकार, जानें इससे क्या फर्क पड़ेगा, जिसका विरोध हो रहा है

राजीब बनर्जी ने पिछले दिनों खुलेआम यह कहा था कि पार्टी में वफादार कार्यकर्ताओं और नेताओं की कोई पूछ नहीं है. उन्होंने कहा था कि तमाम कार्यकर्ता और नेता जो जनता के हित में काम कर रहे हैं उनको ममता बनर्जी की टीएमसी में कोई जगह नहीं दी जा रही है. Also Read - Netaji Subhash Chandra Bose की 125वीं जयंती : राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि, ममता ने कहा- राष्ट्रीय अवकाश घोषित करें

Also Read - Manipur Polls 2022: मणिपुर में विधानसभा चुनाव से पहले TMC का एकमात्र विधायक BJP में शामिल

वैसे पिछले दिनों उन्होंने कहा था कि वह टीएमसी नहीं छोड़ रहे हैं. लेकिन अब कयास लगाए जा रहे हैं कि राजीब टीएमसी के अन्य नेताओं और पूर्व मंत्रियों की तरह ममता का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम सकते हैं.

राजीब वन मंत्री से पहले राज्य सरकार में कई और विभागों को संभाल चुके हैं. वह राज्य के डोमजूर (Domjur) विधानसभा सीट से विधायक हैं. राजीब बनर्जी से पहले पिछले कुछ महीनों में कई नेता ममता का साथ छोड़ चुके हैं.

इनमें सबसे चर्चिच चेहरा शुभेंदु अधिकारी का है. वह टीएमसी के एक बहुत की कद्दावर नेता थे. वह ममता बनर्जी के संघर्ष के दिनों नें नंदीग्राम और सिंगूर आंदोलन के शिल्पकार कर हैं. माना जा रहा है कि इन नेताओं को पार्टी छोड़ने की वजह से ममता काफी कमजोर हो गई हैं.