West Bengal Polls 2021: पश्चिम बंगाल में इस महीने से शुरू होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी जोरों पर हैं. विधानसभा चुनाव (Assembly Polls 2021) नजदीक आते ही सभी पार्टियां जी जान से प्रचार नें जुट गई हैं. इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (RJD) और समाजवादी पार्टी (SP) के बाद शिवेसना ने तृणमूल कांग्रेस (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी को अपना समर्थन दिया. इसके साथ ही यह भी ऐलान किया कि वह पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी.Also Read - भरी सभा में अपनी ही पार्टी की पोल खोलने लगे भाजपा सांसद अरविंद शर्मा, मंच से बोले- सीएम खट्टर अपने दिमाग से काम नहीं करते

ममता बनर्जी को ‘बंगाल की असली शेरनी’ बताते हुए शिवसेना ने तृणमूल कांग्रेस (TMC) से एकजुटता दिखाने का संकल्प लिया. पार्टी ने पूर्व में कहा था कि वह राज्य में चुनावी मुकाबले में उतरेगी. शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने एक ट्वीट कर इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के साथ चर्चा के बाद यह फैसला किया गया. Also Read - राशन उठाने वाले अनधिकृत लोगों से वसूली के ‘शासनादेश’ पर श्वेत पत्र जारी करे सरकार: कांग्रेस

राउत ने कहा कि इस वक्त ‘दीदी बनाम अन्य सभी’ का मुकाबला प्रतीत हो रहा है. राउत ने कहा, ‘बहुत लोग यह जानना चाहते थे कि शिवसेना पश्चिम बंगाल में चुनाव लड़ेगी या नहीं? पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे जी के साथ चर्चा के बाद यह फैसला किया गया है.’ उन्होंने कहा, ‘ममता दीदी के खिलाफ धन-बल, मीडिया का इस्तेमाल किया जा रहा. इसलिए शिवसेना ने पश्चिम बंगाल चुनाव नहीं लड़ने और उनके साथ खड़ा रहने का फैसला किया है. हम ममता दीदी की जबरदस्त सफलता की कामना करते हैं, क्योंकि हमारा मानना है कि वह बंगाल की असली शेरनी हैं.’ Also Read - भाजपा का मिशन विजयः संगठन को मजबूत करने के साथ ही विरोधियों को कमजोर करने की रणनीति पर हो रहा काम

8 चरणों में बंगाल चुनाव
294 सदस्यीय बंगाल विधानसभा के लिए 8 चरणों में मतदान होंगे. बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल तक वोट डाले जाएंगे. बंगाल में पहले चरण के लिए 27 मार्च को 30 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इसके बाद दूसरे चरण की 30 सीटों पर 1 अप्रैल को मतदान होगा. तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे.

चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होगी. पांचवें चरण की 45 सीटों पर 17 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. वहीं, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को वोटिंग होगी. बंगाल में आठवें और अंतिम फेज का चुनाव 29 अप्रैल को होगा, जहां 35 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे.