कोलकाता: आज तृणमूल कांग्रेस (TMC) का 23वां स्थापना दिवस है. टीएमसी (TMC) अपने स्थापना दिवस को पूरे पश्चिम बंगाल (West Bengal) में मना रही है. इस दौरान पार्टी प्रमुख एवं राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने लोगों के लिए काम करने और उनके लिए संघर्ष करने का प्रण लिया. गौरतलब है कि ममता बनर्जी ने कांग्रेस से अलग हो कर आज ही के दिन 1998 में तृणमूल कांग्रेस की स्थापना की थी.Also Read - ममता बनर्जी ने कहा- महाराष्ट्र में जो हो रहा, उसके पीछे बीजेपी, राष्ट्रपति चुनाव के लिए संख्याबल हासिल करने की है चाल

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने राज्य मुख्यालयों में पार्टी का ध्वज फहराया और लोगों की सेवा में अथक परिश्रम के लिए कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया. बनर्जी ने ट्वीट किया,‘‘आज तृणमूल कांग्रेस की स्थापना के 23 वर्ष हो गए, मैं एक जनवरी 1998 में शुरू किए गए सफर को पीछे पलट कर देखती हूं. ये वर्ष बेहद संघर्ष भरे रहे लेकिन इस दौरान हम लोगों के लिए संघर्ष की अपनी प्रतिबद्धता पर डटे रहे और अपने उद्दश्यों को हासिल करते रहे.’’ Also Read - Rashtrapati Chunav: उमा भारती ने यशवंत सिन्हा से उम्मीदवारी वापस लेने का अनुरोध किया, ट्वीट कर कही यह बात...

राज्य में इस वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं और पार्टी ने सत्ता में अपने 10 वर्ष पूरे कर लिए हैं ऐसे में मुख्यमंत्री ने राज्य को बेहतर बनाने के अपने संघर्ष को जारी रखने का प्रण किया. Also Read - IAS की नौकरी छोड़ ज्वाइन की राजनीति, ऐसा है विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का राजनीतिक सफर; द्रौपदी मुर्मू से है मुकाबला

ममता बनर्जी ने लिखा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस के स्थापना दिवस पर मैं अपनी मां-माटी-मानुष का और अपने सभी कार्यकर्ताओं का दिल से आभार व्यक्त करती हूं जो बंगाल को प्रतिदिन बेहतर और मजबूत बनाने में लगातार हमारे संघर्ष में शामिल हैं. तृणमूल परिवार आने वाले वक्त में भी इसी प्रण के साथ आगे बढ़ेगा.’’ पार्टी ने इस अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों के निर्देश पार्टी कार्यकर्ताओं को दिए हैं.