West Bengal Assembly Election 2021: पश्चिम बंगाल में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Bengal Polls 2021) से पहले ममता सरकार को एक के बाद एक कई झटके लग रहे हैं. मंत्री शुभेंदु (Suvendu Adhikari) अधिकारी के पार्टी छोड़ने के बाद अब एक और मंत्री ने इस्तीफा दे दिया है. मंगलवार यानी आज ममता सरकार में मंत्री और पूर्व क्रिकेटर लक्ष्मी रतन शुक्ला (Laxmi Ratan Shukla) ने भी मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. लक्ष्मी रतन शुक्ला के इस्तीफे के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का बयान आया है.Also Read - Manipur Polls 2022: मणिपुर में विधानसभा चुनाव से पहले TMC का एकमात्र विधायक BJP में शामिल

Also Read - UP Assembly Election 2022: सपा चाहती है ममता बनर्जी उनके लिए करें प्रचार, पार्टी के नेता TMC प्रमुख से आज करेंगे मुलाकात

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘कोई भी इस्तीफा दे सकता है. उन्होंने (लक्ष्मी रतन शुक्ला) ने अपने इस्तीफे में लिखा है कि वह खेल को अधिक समय देना चाहते हैं. वह एक विधायक के रूप में पार्टी से जुड़े रहेंगे. इसे नकारात्मक तरीके से न लें. Also Read - गणतंत्र दिवस परेड से बंगाल की झांकी हटाई गई, केंद्र के फैसले से ‘स्तब्ध’ ममता बनर्जी ने PM मोदी को लिखा पत्र

मालूम हो कि लक्ष्मी रतन शुक्ला बंगाल सरकार में खेल और युवा विभाग के मंत्री थे. मंत्री पद के साथ ही उन्होंने हावड़ा के टीएमसी जिला अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा दिया है. उनके इस्तीफे के बाद कहा जा रहा है कि रतन शुक्ला राजनीति से अलग होना चाहते हैं, इसीलिए उन्होंने पद छोड़ दिया है .पिछले विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने राजनीति का रुख किया था और बंगाल के हावड़ा उत्तर से विधायक बने थे. जिसके बाद ममता सरकार में उन्हें खेल और युवा मामलों के मंत्री का पद मिला.

बता दें कि लक्ष्मी रतन शुक्ला भारत के लिए 3 वनडे खेल चुके हैं. इसके अलावा IPL में वह कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR), दिल्ली डेयरडेविल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेल चुके हैं. पश्चिम बंगाल में इस साल मई में विधानसभा चुनाव होने हैं, हालांकि अबतक चुनाव के तारीखों की घोषणा नहीं की गई है.

(इनपुट: ANI)