West Bengal Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल में कोरोना की वजह से जान गंवाने वाले टीएमसी नेता काजल सिन्हा (TMC Leader Kajal Sinha) की पत्नी नंदिता सिन्हा (Nandita Sinha) ने उप चुनाव आयुक्त सुदीप जैन के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है. प्रदेश में खरदाह विधानसभा सीट (Khardah Seat) से चुनाव लड़ रहे सिन्हा की कोरोना संक्रमण (Covid-19) होने के बाद मौत हो गई थी.Also Read - पश्चिम बंगाल: समसेरगंज और जंगीपुर विधानसभा सीट पर होने वाला चुनाव टला, जानिए क्या है वजह

नंदिता सिन्हा ने सुदीप जैन के अलावा अन्य चुनाव अधिकारियों के खिलाफ भी पुलिस शिकायत दर्ज करवाई है. उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना महामारी के बीच इन्होंने उम्मीदवारों या आम जनता की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं की. Also Read - West Bengal Result: बड़ी जीत के बाद सरकार गठन का दावा करने के लिए आज शाम राज्यपाल धनखड़ से मिलेंगी ममता बनर्जी

मालूम हो कि टीएमसी नेता काजल सिन्हा को हाल के दिनों कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई थी. इलाज के लिए उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, हालांकि बीते रविवार की सुबह उनका निधन हो गया. 59 वर्षीय सिन्हा के निधन से दो दिन पहले उनमें कोरोना के लक्षण नजर आए थे. इस पर इलाज के लिए उन्हें बेलियाघाटा आईडी अस्पताल में भर्ती कराया गया. टीएमसी के नेता के निधन पर पार्टी सुप्रियो और प्रदेश की सीएम ममता बनर्जी ने गहरा दुख जताया था. Also Read - West Bengal Assembly Elections Result: पश्चिम बंगाल की ये 7 सीटें, जहां BJP- TMC बीच रहा सबसे कड़ा मुकाबला

उन्होंने 25 अप्रैल को ट्वीट कर कहा- बहुत-बहुत बुरा हुआ. स्तब्ध हूं. खरदाह से हमारे उम्मीदवार काजल सिन्हा का कोरोना से निधन हो गया. उन्होंने लोगों की सेवा में अपना जीवन समर्पित कर दिया. वो लंबे समय तक पार्टी की सेवा करने वाले प्रतिबद्ध सदस्य थे. हमें उनकी कमी खलेगी. उनके परिवार और प्रशंसकों को मेरी संवेदनाएं.