West Bengal Assembly Elections: साल 2021 में पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव का आयोजन कराया जाएगा. ऐसे राजनीतिक सरगर्मी बंगाल में इन दिनों खूब तेज है. बीते दिनों पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला हुआ था साथ ही कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर भी पत्थर फेंके गए थे. इस पत्थरबाजी में भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय को चोटें भी आई थी. इसी मामले को ध्यान में रखते हुए अब कैलाश विजयवर्गीय की सुरक्षा को केंद्र सरकार ने बढ़ा दिया है. अब उन्हें Z प्लस की सुरक्षा दी गई है साथ ही बुलेट प्रूफ गाड़ियां भी दी गई हैं.Also Read - दिग्‍विजय सिंह बोले- सरस्वती शिशु मंदिर बचपन से लोगों के दिल और दिमाग में दूसरे धर्मों के खिलाफ नफरत का बीज बोते हैं...

बता दें कि बीते दिनों जब जेपी नड्डा बंगाल में अपने दौरे पर पहुंचे थे तो इसी दौरान एक स्थान पर भीड़ द्वारा उनके काफिले पर पथराव किया गया था. हालांकि इस हमले में नड्डा को किसी प्रकार की चोट नहीं आई थी. वहीं इसी दिन कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर भी पथराव किया गया था जिसमें विजयवर्गीय घायल हो गए थे. Also Read - कोलकाता: कैलाश विजयवर्गीय के खिलाफ भाजपा कार्यालय के बाहर लगे ‘वापस जाओ’ के पोस्टर, मचा बवाल

Also Read - अपने बयान 'मारूंगा यहां और लाश गिरेगी श्मशान में' पर फंसे मिथुन चक्रवर्ती, हाईकोर्ट के काटने पड़े चक्कर

पश्चिम बंगाल में साल 2021 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, ऐसे में एक तरफ जहां भाजपा अपनी जड़ों को मजबूत करने में जुटी हुई है, वहीं दूसरी तरफ ममता बनर्जी की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं. यहां ममता बनर्जी के अपने ही नेता बगावती सुर अख्तियार करने लगे हैं. ऐसे में राजनीतिक सरगर्मी बंगाल में तेज हो चुकी हैं.

काफिले पर गमले को लेकर भाजपा ने टीएमसी व उसके कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाया और ममता सरकार पर हमला बोला. इस मामले की कई बड़े नेताओं ने आलोचना की. वहीं पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इस मामले की रिपोर्ट गृह मंत्रालय को भेज दी है. बता दें कि ऐसे माहौल में 19-20 दिसंबर को अमित शाह पश्चिम बंगाल में चुनावी दौरा करने वाले हैं और चुनावी तैयारियों का जायजा भी लेंगे.